उत्तर प्रदेश के बिजनौर में आदमखोर तेंदुए से सावधान! 24 घंटे में दूसरी बच्ची को उतारा मौत के घाट, दहशत में लोग

वन अधिकारी अरुण कुमार ने कहा कि हमने तेंदुए को फंसाने के लिए पिंजरे और ट्रैप कैमरे लगाए हैं। वन विभाग की टीम की गश्त बढ़ा दी गई है। इलाके में रहने वाले ग्रामीणों को भी सतर्क कर दिया गया है।

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले में एक बार फिर तेंदुए का तांडव देखने को मिला है। तेंदुआ घर की दीवार फांदकर आंगन में खेल रही पांच साल की बच्ची को खींच ले गया। घायल बच्ची यामिनी को बाद में अस्पताल ले जाया गया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। लड़की के पिता टिकेंद्र सिंह ने कहा कि यामिनी खाना खाने के बाद घर के आंगन में खेल रही थी, तभी तेंदुए ने उस पर हमला कर दिया। यह रेहड़ क्षेत्र में 24 घंटे के अंदर दूसरी घटना है। घटना मंगलवार देर रात को बिजनौर के रेहड़ क्षेत्र के मच्छमार गांव के बाहरी इलाके में हुई।

वन अधिकारी अरुण कुमार ने कहा कि हमने तेंदुए को फंसाने के लिए पिंजरे और ट्रैप कैमरे लगाए हैं। वन विभाग की टीम की गश्त बढ़ा दी गई है। इलाके में रहने वाले ग्रामीणों को भी सतर्क कर दिया गया है। वन अधिकारी ने आशंका व्यक्त की कि दोनों घटनाओं को एक ही तेंदुए ने तो अंजाम नहीं दिया, इसकी जांच के लिए मेरठ और मुरादाबाद से वन्यजीव विशेषज्ञों की टीमें बुलाई जा रही हैं।


उल्लेखनीय है कि बिजनौर जिले के रेहड़ क्षेत्र में 24 घंटे के अंदर दूसरी घटना है। इससे पहले उदयपुर गांव में सोमवार को घर आंगन में खेल रही एक पांच साल की बच्ची अर्शी पर हमला कर मौत के घाट उतार दिया था। रेहड़ अमनगढ़ टाइगर रिजर्व के पास गन्ने और गेहूं के खेतों से घिरा एक अपेक्षाकृत निर्जन क्षेत्र है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;