बाइडन ने दुनिया को वैक्सीन देने का किया ऐलान, कमला हैरिस ने पीएम मोदी से की बात, टीके जल्द मिलने का दिया आश्वासन

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने ऐलान किया कि कोवैक्स योजना के तहत कोरोना वैक्सीन की आठ करोड़ खुराकें दुनिया के लिए जारी की जाएगी। साथ ही अमेरिका ने महामारी का कहर झेल रहे भारत सहित कनाडा, मैक्सिको जैसे देशों के लिए 6 मिलियन वैक्सीन जारी करने का एलान किया।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

दुनिया भर में छाए कोरोना संकट के बीच अमेरिका ने गुरुवार को दुनिया के जरूरतमंद देशो के साथ कोरोना वैक्सीन साझा करने का ऐलान कर दिया। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने ऐलान किया कि इस योजना के तहत कोरोना वैक्सीन की 75 प्रतिशत डोज संयुक्त राष्ट्र के ‘कोवैक्स’ पहल के जरिए आपूर्ति की जाएंगी। व्हाइट हाउस के अनुसार टीके की आठ करोड़ खुराकें दुनिया के साथ साझा की जाएंगी।

अमेरिका द्वारा घोषित योजना के अनुसार दान में जारी वैक्सीन डोज में से लैटिन अमेरिका और कैरिबियन देशों के लिए लगभग 60 लाख खुराक, दक्षिण और दक्षिण पूर्व एशिया के लिए लगभग 70 लाख और अफ्रीका के लिए लगभग 50 लाख डोज शामिल हैं। वहीं अमेरिका इनमें से महामारी का कहर झेल रहे भारत सहित कनाडा, मैक्सिको जैसे देशों के लिए 6 मिलियन वैक्सीन दान करेगा।

वहीं, अमेरिकी प्रशासन के इस ऐलान के फौरन बाद अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच फोन पर बात हुई। दोनों नेताओं ने इस दौरान कोरोना संकट समेत इस संकट से निपटने के लिए भारत-अमेरिका साझेदारी जैसे मुद्दों पर चर्चा किया। इस दौरान दोनों नेताओं के बीच कोराना वैक्सीन की किल्लत को लेकर भी चर्चा हुई। खबर है कि हैरिस ने इस दौरान पीएम मोदी को अमेरिका द्वारा कोवैक्स पहल के तहत जल्द ही भारत के लिए वैक्सीन जारी करने की जानकारी दी।

कमला हैरिस से बात के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर बताया कि “कुछ देर पहले कमला हैरिस से बात हुई है। मैंने दुनिया भर में वैक्सीन देने के लिए और भारत को वैक्सीन की सप्लाई का आश्वासन देने के लिए अमेरिकी रणनीति की सराहना की है और हैरिस को धन्यवाद दिया है।”

पीएम मोदी ने आगे लिखा कि इस संकट में अमेरिका की सरकार, कारोबारियों और प्रवासी भारतीयों से मिले समर्थन के लिए भी मैंने उनका धन्यवाद किया है। पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने वैक्सीन को लेकर भारत-अमेरिका के बीच चल रहे सहयोग को लेकर भी चर्चा की।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia