उत्तराखंड में चारधाम यात्रा के बीच बड़ा हादसा, गौरीकुंड में भूस्खलन, कई लोग दबे, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

भूस्खलन की सूचना मिलेत ही एनडीआरएफ और एसडीआरफ की टीम मौके पर पहुंची और और देर रात में ही रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया। बारिश की वजह से बचाव अभियान चलाने में दिक्कत आ रही है।

उत्तराखंड में चारधाम यात्रा के बीच बड़ा हादसा, गौरीकुंड में भूस्खलन।
उत्तराखंड में चारधाम यात्रा के बीच बड़ा हादसा, गौरीकुंड में भूस्खलन।
user

नवजीवन डेस्क

उत्तराखंड में चारधाम यात्रा के बीच रुद्रप्रयाग के गौरीकुंड में बड़ा हादसा हुआ है। एसडीआरएफ के मुताबिक, लैंस्लाइड होने से 13 लोग मलबे में दब गए हैं। गौरीकुंड, जहां हादसा हुआ है वह यात्रा का मुख्य पड़ाव है। बताया जा रहा है कि देर रात पहाड़ी से मलबा गिरने से दो दुकानें इसकी चपेट में आ गईं। हादसे के समय दुकानों में कई लोग सो रहे थे। इनमें नेपाली और स्थानीय लोग शामिल हैं।

भूस्खलन की सूचना मिलेत ही एनडीआरएफ और एसडीआरफ की टीम मौके पर पहुंची और और देर रात में ही रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया। बारिश की वजह से  बचाव अभियान चलाने में दिक्कत आ रही है। मौसम विभाग के अनुसार, रुद्रप्रयाग में आज पूरे भारी बारिश के आसार हैं। 5 अगस्त को हल्की बारिश और 6 अगस्त को भारी बारिश की आशंका है। भारी बारिश की वजह से पूरे इलाके में तबाही मची है। बारिश की वजह से मंदाकिनी नदी उफान पर है। भारी बारिश के चलते डाक पुलिया के सामने भूस्खलन हुआ है।


आईएमडी के अनुसार, 6 अगस्त तक उत्तराखंड के अलग-अलग इलाकों में भारी बारिश का अनुमान है। मौसम विभाग ने गुरुवार को बागेश्वर, नैनीताल और चंपावत जिले के लिए भारी को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया था। बारिश का अनुमान जताया गया था। भारी के अलर्ट को देखते हुए तीनों जिले में 12वीं तक के स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र बंद कर दिए गए थे। इसके अलावा मौसम विभाग ने देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी और ऊधमसिंह नगर के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया था।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;