इस्लाम विरोधी बयान देने वाले वसीम रिजवी का बड़ा ऐलान, कहा- मरने के बाद दफनाने की बजाए मेरा हो अंतिम संस्‍कार

वसीम रिजवी ने कहा कि मुसलमान उनकी हत्या और गर्दन काटने की साजिश रच रहे हैं। उन्होंने कहा कि मेरा गुनाह इतना है कि मैंने 26 आयतों को सुप्रीम कोर्ट में चैलेंज किया था, जो इंसानियत के प्रति नफरत फैलाती है। रिजवी ने कहा कि अब मुसलमान मुझे मार देना चाहते हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

इस्लाम विरोधी बयान को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहने वाले शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी ने बड़ा ऐलान किया है। वसीम रिजवी ने कहा कि मरने के बाद उनका अंतिम संस्कार कर दिया जाए। उन्होंने इसके लिए एक वसीयतनामा भी तैयार किया है। वीडियो जारी कर कह कि मरने के बाद उनके शरीर को हिंदू दोस्तों को सौंप दिया जाए और उनका अंतिम संस्कार किया जाए। यही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि डासना मंदिर के महंत नरसिम्हा नंद सरस्‍वती उनकी चिता को अग्नि दे।

वसीम रिजवी ने यह भी आरोप लगाया कि मुसलमान उनकी हत्या और गर्दन काटने की साजिश रच रहे हैं। उन्होंने कहा कि मेरा गुनाह इतना है कि मैंने 26 आयतों को सुप्रीम कोर्ट में चैलेंज किया था, जो इंसानियत के प्रति नफरत फैलाती है। रिजवी ने कहा कि अब मुसलमान मुझे मार देना चाहते हैं और यह ऐलान किया है कि मुझे किसी कब्रिस्तान में कोई जगह नहीं देंगे।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 15 Nov 2021, 11:40 AM