बिहारः तालाब में डूबने से 5 बच्चों की मौत, कमल का फूल तोड़ने के चक्कर मेंं गई जान, पूरे गांव में मातम का माहौल

पुलिस ने बताया कि मनोहरपुर गांव के पांच बच्चे गुरुवार दोपहर गांव के ही तालाब में कमल का फूल तोड़ने गए थे। इस दौरान एक बच्ची का पैर फिसल गया और वह गहरे पानी में चली गई। उसे बचाने के लिए अन्य बच्चे भी गहरे पानी में उतर गए, जिससे सभी पांच बच्चों की मौत हो गई।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

बिहार के मधेपुरा जिला के चौसा थाना क्षेत्र में गुरुवार को एक तालाब में डूबने से पांच बच्चों की मौत हो गई। इन बच्चों की उम्र 10 से 12 वर्ष के बीच बताई जा रही है। सभी शवों को तालाब से बाहर निकाल लिया गया है। हादसे का शिकार हुए सभी बच्चे एक ही गांव थे, जिससे पूरे गांव में मातम का माहौल है।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि मनोहरपुर गांव के रहने वाले पांच बच्चे गुरुवार की दोपहर गांव के ही एक तालाब में कमल का फूल तोड़ने गए थे। इसी दौरान तालाब में एक बच्ची का पैर फिसल गया और वह गहरे पानी में चली गई। उसे बचाने को लेकर अन्य बच्चे भी गहरे पानी में उतर गए, जिससे सभी पांच बच्चों की मौत हो गई।


तलाब में स्नान कर रहे अन्य बच्चों के शोर मचाए जाने के बाद आसपास के लोग जमा हुए और तालाब से सभी बच्चों को निकाला गया, लेकिन तब तक सभी की मौत हो चुकी थी। घटना की सूचना मिलने के बाद पहुंची पुलिस ने सभी शवों को अपने कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है।

चौसा के थाना प्रभारी रवीश रंजन ने बताया कि मृतकों में नैंसी कुमारी, लक्ष्मी कुमारी, ललिता कुमारी, अस्मिता कुमारी और कृष्णा कुमार शामिल हैं। सभी मनोहरपुर गांव के ही रहने वाले हैं और सभी की उम्र 10 से 12 वर्ष के बीच है। उन्होंने कहा कि पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है। एक साथ पांच शव देख गांव में कोहराम मच गया है। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia