बिहार में शराब से मौत का सिलसिला जारी, अब मुजफ्फरपुर में 5 लोगों की गई जान, पंचायत चुनाव के प्रत्याशी ने बंटवाई थी शराब

बिहार में कथित तौर पर जहरीली शराब पीकर लोगों की मौत का सिलसिला जारी है। मुजफ्फरपुर के कांटी थाना क्षेत्र में पिछले 24 घंटे के दौरान पांच लोगों की मौत हो गई है, जबकि अभी भी आधा दर्जन लोग बीमार बताए जा रहे हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

बिहार में कथित तौर पर जहरीली शराब पीकर लोगों की मौत का सिलसिला जारी है। मुजफ्फरपुर के कांटी थाना क्षेत्र में पिछले 24 घंटे के दौरान पांच लोगों की मौत हो गई है, जबकि अभी भी आधा दर्जन लोग बीमार बताए जा रहे हैं। इस दौरान हालांकि एक बार फिर कार्रवाई के नाम पर थाना प्रभारी और चौकीदार को निलंबित कर दिया गया है।

पुलिस का दावा है कि शराब के खिलाफ लगातार छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है। इस मामले में अब तक 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस के एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि सभी मृतक नरोत्तम पंचायत के सीरिसियां और मानिकपुर गांव के रहने वाले वाले हैं। आरोप है कि पंचायत चुनाव को लेकर प्रत्याशियों ने शराब बंटवाई थी, जिसे पीकर लोग पहले बीमार हुए और बाद में मौत हो गई।

मुजफ्फरपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जयंतकांत ने बताया कि प्रारंभिक जांच में मौत का कारण शराब पीना ही प्रतीत हो रहा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। इस मामले में कांटी थाना प्रभारी कुंदन कुमार और दो चौकीदारों को निलंबित कर दिया गया है।

इधर, मुजफ्फरपुर (पश्चिमी) के पुलिस उपाधीक्षक अभिषेक आनंद ने बुधवार को बताया कि इस मामले में अब तक मुखिया प्रत्याशी सहित 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि पुलिस शराब के खिलाफ लगातार अभियान चला रही है।

गौरतलब है कि जिले के कांटी और मीनापुर प्रखंड में पंचायत चुनाव के तहत सातवें चरण में 15 नवंबर को मतदान होना है। माना जा रहा है कि इसी चुनाव में मतदाताओं को आकर्षित करने के लिए शराब बांटी गई थी।

उल्लेखनीय है कि मुजफ्फरपुर जिले के सरैया और सकरा थाना क्षेत्र में पिछले महीने आठ लोगों की मौत कथित शराब पीने से हो गई थी। इससे पहले फरवरी महीने में भी मुजफ्फरपुर जिले में 10 लोगों की मौत शराब पीने से हो गई थी।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia