‘सुशासन बाबू’ के राज में बीजेपी नेता भी सुरक्षित नहीं, औरंगाबाद में बीजेपी नेता की गोली मारकर हत्या

औरंगाबाद पुलिस ने बताया कि यह घटना हसपुरा के जलपुरा इलाके में उस वक्त हुई जब बीजेपी नेता मोहन यादव सुबह की सैर के लिए निकले थे। जिला पुलिस अधिकारी ने बताया कि दो मोटरसाइकिल सवार हमलावरों ने बेहद करीब से उनके सिर और पेट में गोली मारी और फरार हो गए।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

बिहार में बेखौफ दमाशों का आतंक जारी है। आलम यह है कि राज्य में बीजेपी-जेडीयू गठबंधन की सरकार में बीजेपी के नेता तक सुरक्षित नहीं हैं। ताजा मामला औरंगाबाद जिले में सामने आया है। यहां के हसपुरा के जलपुरा इलाके में बीजेपी नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई है।

पुलिस ने बताया कि यह घटना हसपुरा के जलपुरा इलाके में उस वक्त हुई जब बीजेपी नेता मोहन यादव सुबह की सैर के लिए निकले थे। जिला पुलिस अधिकारी ने बताया, "दो मोटरसाइकिल सवार हमलावरों ने बेहद करीब से उनके सिर और पेट में गोली मारी और फरार हो गए।

गोली लगने के बाद मोहन यादव वहीं गिर पड़े और मौके पर ही उनकी मौत हो गई। इस घटना के बाद इलाके में सनसनी फैल गई। मौके पर स्थानीय लोगों की भीड़ जमा हो गई। स्थानीय लोगों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लिया। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

राज्य में लागातार बेखौफ बदमाश हत्या की वारदात को अंजाम दे रहे हैं और नीतीश सरकार कुछ नहीं कर पा रही है। 2 फरवरी को सीवान में पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के भतीजे की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। गोली लगने के बाद शहाबुद्दीन के भतीजे को सदर अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था।

2 फरवरी को सीवान में जहां बदामशों ने शहाबुद्दीन के भतीजे की गोली मारकर हत्या कर दी थी। वहीं मुजफ्फरपुर में बदमाशों का पुलिस से मुठभेड़ हुआ था। इस मुठभेड़ में एक बदमाश तो मारा गया था, लेकिन दो बदमाश भागने में कमयाब रहे हो गए थे। इस मुठभेड़ में गौर करने वाली बात यह थी कि मारे गए बदमाश के कब्जे एके-47 बरामद किया गया था।

Published: 8 Feb 2019, 10:06 AM
लोकप्रिय