बिहारः सैनिटरी पैड की मांग पर छात्रा को झिड़कने वाली अफसर पर हो सकता है एक्शन, सीएम नीतीश ने जांच की बात कही

आईएएस अधिकारी ने छात्रा के यह कहने पर कि सरकार उनके पास वोट मांगने आती है, गुस्से में कहा कि आप वोट मत दो और पाकिस्तान चले जाओ। आप सरकार से पैसा और सुविधाएं लेने के लिए वोट दे रहे हैं। इस पर छात्रा ने भी जवाब दिया कि वह भारतीय है, पाकिस्तान क्यों जाएगी?

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

बिहार में एक कार्यक्रम में सैनिटरी पैड की मांग करने वाली छात्रा को “आज पैड मांगोगी, कल निरोध भी मांगोगी”कहकर झिड़कने वाली वरिष्ठ महिला आईएएस अधिकारी हरजोत कौर पर कार्रवाई हो सकती है। खुद सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि मामला संज्ञान में आया है और हम जांच करा रहे हैं।

 मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को कहा कि उनकी सरकार ने वरिष्ठ महिला आईएएस अधिकारी द्वारा सैनिटरी नैपकिन पैड को लेकर एक स्कूली छात्रा के अपमान का संज्ञान लिया है। सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि उन्हें इस घटना के बारे में तब पता चला जब घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया और देश भर में सुर्खियों में आ गया। उन्होंने कहा, यह हमारे संज्ञान में आया है और हम इसकी जांच कर रहे हैं।

दरअसल डब्लूसीडीसी और यूनिसेफ द्वारा कक्षा 9 और 10 के छात्रों के लिए आयोजित सशक्त बेटी समृद्ध बिहार कार्यक्रम में बिहार महिला और बाल विकास निगम की एमडी हरजोत कौर बम्हरा से  एक छात्रा ने पूछा कि सरकार छात्राओं को स्कूल ड्रेस, छात्रवृत्ति, साइकिल और कई अन्य सुविधाएं दे रही है, क्या वह छात्राओं को 20 से 30 रुपये की सैनिटरी पैड नहीं दे सकती?

इस पर जवाब देते हुए हरजोत कौर बम्हरा ने कहा कि, "लोग ताली बजा रहे हैं लेकिन ये अंतहीन मांगें हैं। उन्होंने कहा कि आज सरकार आपको 20 से 30 रुपये में सैनिटरी पैड मुहैया कराएगी, फिर कल आप कहेंगी कि सरकार जींस-पैंट भी दे सकती है और इसके बाद सुंदर जूते क्यों नहीं? फिर परिवार नियोजन की बात आएगी तो क्या सरकार आपको निरोध भी देगी।"


आईएएस अधिकारी यहीं नहीं रुकीं और आगे उन्होंने कहा कि सरकार से सब कुछ मुफ्त लेने की आदत क्यों होनी चाहिए? इसकी क्या जरूरत है? उस पर छात्रा ने कहा कि सरकार उनके पास वोट मांगने आती है। बम्हरा ने गुस्से में जवाब दिया कि, यह पराकाष्ठा है। आप वोट मत करो और पाकिस्तान चले जाओ। आप सरकार से पैसा और सुविधाएं लेने के लिए वोट दे रहे हैं। छात्रा ने जवाब दिया कि, वह एक भारतीय है और वह पाकिस्तान क्यों जाएगी?

इसके बाद छात्रा ने फिर कहा कि सरकार करदाताओं के पैसे से सुविधाएं प्रदान कर रही है। अगर करदाता सरकार को कर दे रहे हैं, तो वे सेवाओं की मांग क्यों नहीं करेंगे?, एक अन्य छात्रा ने स्कूल में लड़कियों के लिए शौचालय में समस्या का दावा करते हुए कहा कि लड़के भी लड़कियों के शौचालय में प्रवेश करते हैं और उन्हें असहज करते हैं। इस पर बम्हरा ने पूछा कि क्या हॉल में मौजूद प्रत्येक छात्रा के घर में उनके लिए अलग शौचालय है?


छात्राओं को नीचा दिखाने वाली वरिष्ठ आईएएस अधिकारी के इन जवाबों ने वहां मौजूद लोगों को आश्चर्य और हैरान कर दिया। इसके बाद पूरी घटना की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसके बाद लोग महिला अधिकारी की सोच पर सवाल उठाने लगे। मामले के तूल पकड़ने के बाद अब खुद सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि वह मामले को देख रहे हैं। इसके बाद अब आईएएस अधिकारी पर कार्रवाई की चर्चा तेज हो गई है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;