बिहार: पानी की निकासी न होने पर पटना में बाढ़ पीड़ितों का विरोध प्रदर्शन, भागलपुर में एसडीएम पर हमला 

पटना के दानापुर इलाके के नाराज लोगों ने सड़क पर जाम लगाया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। उन्होंने कहा कि पटना नगर निगम और अन्य सरकारी एजेंसियां छह दिन पहले बारिश बंद होने के बाद भी कॉलोनियों और अपार्टमेंटों से बाढ़ के पानी को बाहर निकालने में विफल रही हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

आईएएनएस

बिहार की राजधानी पटना में आई बाढ़ के पानी की निकासी न होने से नाराज लोगों ने शनिवार को नीतीश सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। इस दौरान लोगों ने स्थानीय प्रशासन और राज्य सरकार से उन्हें राहत प्रदान करने की मांग की। पटना के दानापुर इलाके के नाराज लोगों ने गोला रोड टी पॉइंट के पास सड़क पर जाम लगाया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। उन्होंने कहा कि पटना नगर निगम और अन्य सरकारी एजेंसियां छह दिन पहले बारिश बंद होने के बाद भी कॉलोनियों और अपार्टमेंटों से बाढ़ के पानी को बाहर निकालने में विफल रही हैं।

स्थानीय पुलिस अधिकारियों ने प्रदर्शनकारियों से सड़क पर की गई नाकेबंदी को खत्म करने का अनुरोध किया। शहरभर के जलभराव वाले क्षेत्रों से काफी लोगों ने पिछले तीन दिनों में एक दर्जन से अधिक स्थानों पर विरोध प्रदर्शन किया है। उनके विरोध प्रदर्शनों ने शीर्ष सरकारी अधिकारियों के स्थिति में सुधार होने के दावों को बेनकाब किया है।

अधिकारियों के अनुसार, जलभराव वाले क्षेत्रों में राजेंद्र नगर, कंकड़बाग और कदमकुआं इलाके में रहने वालों को अभी तक कोई राहत नहीं मिली है। यहां अभी भी तीन-चार फुट तक पानी जमा है। शहर में अभी भी जाम सीवेज और ड्रेनेज सिस्टम को दुरुस्त किया जाना बाकी है। पटना का बड़ा हिस्सा जलमग्न होने से पिछले चार दिनों में फलों और सब्जियों जैसी आवश्यक वस्तुओं के दाम बढ़ गए हैं।

वहीं भागलपुर जिले में गुस्साए बाढ़ पीड़ितों ने एक परगनाधिकारी (एसडीएम) पर हमला बोल दिया, लेकिन सुरक्षा गार्डो ने एसडीएम को बचा लिया। पुलिस ने कहा कि एसडीएम आशीष नारायण पर बाढ़ पीड़ितों ने नवटोलिया गांव में उस समय हमला किया, जब वह बाढ़ की स्थिति का जायजा लेने जा रहे थे। जिले के एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “ गुस्साए बाढ़ पीड़ितों ने एसडीएम के सरकारी वाहन पर उस समय हमला बोल दिया, जब उन्होंने उन्हें शांत कराने की कोशिश की। बाढ़ पीड़ितों ने एसडीएम पर भी हमला किया। सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें बचाया।” हमले में एसडीएम का वाहन क्षतिग्रस्त हो गया।

बिहार में हुई भारी बारिश के बाद पटना के अलावा 14 जिलों में बाढ़ आई है। राज्य में बाढ़ की वजह से मरने वालों का आधिकारिक आंकड़ा 73 तक पहुंच गया है। इससे कई लाख लोग प्रभावित हैं।

लोकप्रिय