बिहारः किसानों के समर्थन में विपक्ष ने बनाई मानव श्रंखला, रोटियों की माला पहन बैलगाड़ी से पहुंचे पूर्व मंत्री

वैशाली में उस वक्त अजीबोगरीब नाजारा देखना को मिला, जब महुआ में पूर्व मंत्री शिवचंद्र राम और विधायक डॉ मुकेश रौशन बैलगाड़ी पर सवार होकर मानव श्रृंखला में हिस्सा लेने पहुंचे। इस दौरान शिवचंद्र राम ने रोटियों की माला पहनकर मानव श्रृंखला में भाग लिया।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

केंद्र की मोदी सरकार के विवादित कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में शनिवार को बिहार में महागठबंधन ने पूरे राज्य में मानव श्रृंखला बनाई। इस मानव श्रृंखला में महागठबंधन के घटक दलों के करीब सभी बड़े नेता सड़कों पर उतरे और पटना समेत पूरे राज्य में मानव श्रृंखला को सफल बनाया।

इस दौरान वैशाली में उस वक्त अजीबोगरीब नाजारा देखना को मिला, जब महुआ में बैलगाड़ी पर सवार होकर पूर्व मंत्री शिवचंद्र राम और महुआ के विधायक डॉ़ मुकेश रौशन मानव श्रृंखला में हिस्सा लेने पहुंचे। इस क्रम में शिवचंद्र राम ने रोटियों की माला पहनकर मानव श्रृंखला में भाग लिया।

विवादित कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के चल रहे आंदोलन के समर्थन में आरजेडी के आह्वान पर वैशाली जिले के कई स्थानों पर भी महागठबंधन के घटक दलों के नेताओं द्वारा मानव श्रृंखला बनाई गई। इस दौरान मानव श्रृंखला में शामिल लोगों ने केंद्र और राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

महुआ में पूर्व मंत्री शिवचंद्र राम ने कहा कि कृषि कानून किसानों के हित में नहीं हैं, इसलिए पूरे देश के किसान सड़क पर हैं। विधायक डॉ़ मुकेश रौशन ने कहा कि केंद्र सरकार अगर किसान बिल वापस नहीं लेती है, तो अब गांव में भी लोग सड़क पर उतरेंगे। उन्होंने कहा कि आरजेडी ही नहीं महागठबंधन का एक-एक कार्यकर्ता किसानों के साथ है। केंद्र सरकार को तत्काल तीनों कृषि कानूनों को वापस लेना चाहिए।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia