कोरोना वायरस के कहर के बीच बिहार में अब इस बीमारी ने दी दस्तक, सरकार और प्रशासन के फूले हाथ-पांव

कोरोना वायरस से जंग के बीच प्रशासन ने बर्ड फ्लू की रोकथाम के लिए कमद उठाना शुरू कर दिया है। राजधानी पटना में पटना बर्ड फ्लू के मामले सामने आने के बाद राज्य के पशुपालन विभाग के कर्मचारियों ने सैंकड़ों मुर्गों को मारकर दफनाया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश समेत पूरे बिहार कोरोना वायरस के कहर से लोग हलकान है। दहशत के बीच इस जानलेवा बीमारी को कैसे परास्त किया जाए, इसे लेकर हर कोई कोशिश में जुटा हुआ है। इस बीच बिहार में एक नई मुसीबत ने दस्तक दे दी है। राज्य में बर्ड फ्लू की दस्तक से मुश्किलें और बढ़ गई हैं। बर्ड फ्लू के मामले सामने आने के बाद सरकार और प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए हैं।

कोरोना वायरस के कहर के बीच बिहार में अब इस बीमारी ने दी दस्तक, सरकार और प्रशासन के फूले हाथ-पांव

कोरोना वायरस से जंग के बीच प्रशासन ने बर्ड फ्लू की रोकथाम के लिए कमद उठाना शुरू कर दिया है। राजधानी पटना में पटना बर्ड फ्लू के मामले सामने आने के बाद राज्य के पशुपालन विभाग के कर्मचारियों ने सैंकड़ों मुर्गों को मारकर दफनाया। इसकी तस्वीर भी सामने आई है।

कोरोना वायरस के कहर के बीच बिहार में अब इस बीमारी ने दी दस्तक, सरकार और प्रशासन के फूले हाथ-पांव

बीते दिनों पटना के कंकड़बाग के अशोक नगर रोड-14 के पास एक पोल्ट्री फार्म और नालंदा के कतरीसराय सैदपुर पोल्ट्री फार्म में मरे मुर्गियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। शुक्रवार को पशुपालन विभाग की ओर से इसकी आधिकारिक पुष्टि की गई। इससे पहले पटना और आसपास के अलावा राज्य के कई जिलों में कौवों के मरने का दौर जारी है। अब तक सैकड़ों कौवों की मौत हो चुकी है। कंकड़बाग में एक मृत कौवों की जांच में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है। ऐसे में कोरोना के कहर के बीच बर्ड फ्लू ने राज्य सरकार और प्रशासन की मुश्किलें और बढ़ा दी हैं।

कोरोना वायरस के कहर के बीच बिहार में अब इस बीमारी ने दी दस्तक, सरकार और प्रशासन के फूले हाथ-पांव

बिहार में कोरोना वायरस के खिलाफ भी जंग जारी है। राज्य में अब तक कोरोना वायरस के 9 मामले सामने आ चुके हैं और दो लोगों की मौत हो चुकी है। लगातार स्क्रीनिंग की जा रही है। इस जानलेवा बीमारी से लोगों को बचाया जा सके, इसके लिए लगातार कदम उठाए जा रहे हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia