बिहार: मामला कोर्ट में फिर भी तेजस्वी का बंगला खाली कराने पहुंची नीतीश सरकार की टीम, धरने पर बैठे आरजेडी नेता

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव का सरकारी बंगला खाली कराने पहुंची प्रशासन की टीम को खाली हाथ वापस लौटना पड़ा है। बंगले के गेट पर तेजस्वी की ओर से एतजक नोटिस चिपका हुआ मिला। जिस पर लिखा है, मामला कोर्ट में है, इसलिए बंगला खाली करने का दबाव न डालें। 

By नवजीवन डेस्क

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव का सरकारी बंगला खाली कराने को लेकर सियासत जारी है। पटना के 5 देशरत्न मार्ग स्थित सरकारी बंगले को खाली कराने बुधवार को पुलिस की टीम पहुंची, लेकिन इस दौरान उन्हें खाली हाथ बैरंग लौटना पड़ा। पुलिस टीम को बंगले के गेट पर एक पोस्टर चिपका हुआ मिला। जिस पर लिखा है कि बंगले को खाली कराने के खिलाफ पटना हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई है। इसलिए बंगला खाली करने का दबाव न डालें और याचिका पर अंतिम फैसला आने तक बंगला खाली नहीं किया जाएगा। वहीं बंगला खाली कराने की सूचना मिलने के बाद आरजेडी नेता आक्रोशित हो गए और बंगले के बाहर धरने पर बैठ गए।

बिहार: मामला कोर्ट में फिर भी तेजस्वी का बंगला खाली कराने पहुंची नीतीश सरकार की टीम, धरने पर बैठे आरजेडी नेता

हालांकि इस पर विवाद उठने के बाद बंगला खाली करवाने की प्रक्रिया को फिलहाल टाल दिया गया है। तेजस्वी यादव के वकील की तरफ से जिला प्रशासन को उपलब्ध कराए गए कानूनी कागज के आधार पर फिलहाल कार्रवाई टाल दी गई है।

बंगला खाली कराने के मामले में आरजेडी नेता बिहार सरकार पर निशाना साधा है। आरजेडी के राज्यसभा सांसद मनोज झा ने नीतीश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि सरकार निचले स्तर की राजनीति कर रही है।

बता दें कि तेजस्वी यादव जुलाई 2017 तक जब तक उपमुख्यमंत्री थे वो 5 देशरत्न मार्ग पर स्थित इस सरकारी बंगले में रहते थे। मगर अब जब कि उन्हें यह पद छोड़े सवा साल से ज्यादा समय हो गया है बिहार सरकार ने उन्हें अलॉट बंगला खाली करने को कह दिया है।

Most Popular