बिहारः अनंत सिंह के गढ़ मोकामा में ताल ठोकेंगे मुकेश सहनी, उपचुनाव में प्रत्याशी उतार अन्य दलों का बिगाड़ेंगे खेल

साल 2020 के बिहार चुनाव में मोकामा सीट पर एलजेपी के सुरेश सिंह निषाद को 8 फीसदी से ज्यादा मत मिले थे। माना जा रहा है कि वीआईपी निषाद समाज के इसी मत पर नजर गड़ाए हुए है। कहा जा रहा है कि वीआईपी के चुनावी मैदान में उतरने से समीकरण बदल सकते हैं।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

चुनाव आयोग ने बिहार के मोकामा विधानसभा उपचुनाव को लेकर भले ही अब तक तारीख की घोषणा नहीं की है लेकिन राजनीतिक दलों ने इसे लेकर तैयारी शुरू कर दी है। विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के प्रमुख और बिहार के पूर्व मंत्री मुकेश सहनी ने मोकामा विधानसभा उपचुनाव लड़ने को घोषणा कर दी है।

बिहार के पूर्व मंत्री मुकेश सहनी ने रविवार को मोकामा विधानसभा क्षेत्र के पार्टी पदाधिकारियों की बैठक के बाद घोषणा कर दी कि वीआईपी मोकामा विधानसभा क्षेत्र के होने वाले उपचुनाव में अपना प्रत्याशी उतारेगी। सहनी ने बैठक के बाद कहा कि पार्टी ने मोकामा विधानसभा में चुनाव के लिए तैयारी प्रारंभ कर दी है।


मुकेश सहनी ने बताया कि बैठक में मोकामा विधानसभा उपचुनाव की तैयारियों और पार्टी की विचारधारा, नीतियों और सिद्धांतों को जन-जन तक पहुंचाने और विभिन्न राजनीतिक, सामाजिक सांगठनिक विषयों पर विस्तार से चर्चा की गई। उन्होंने कहा कि बोचहा उपचुनाव में भी हमारी पार्टी को कम आंका जा रहा था, लेकिन हमारी पार्टी 18 प्रतिशत ज्यादा मत लाई।

साल 2020 के चुनाव में मोकामा विधानसभा में कुल 52.99 प्रतिशत वोट पड़े थे। इस चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल के टिकट पर अनंत सिंह ने जनता दल यूनाइटेड के राजीव लोचन नारायण सिंह को 35,757 वोटों से हराया था। इस चुनाव में एलजेपी के सुरेश सिंह निषाद को 8 फीसदी से ज्यादा मत मिले थे। माना जा रहा है कि वीआईपी निषाद समाज के इसी मत पर नजर गड़ाए हुएहैं। कहा जा रहा है कि वीआईपी के चुनावी मैदान में उतरने से समीकरण बदल सकते हैं।


गौरतलब है कि बिहार के मोकामा से बाहुबली विधायक अनंत सिंह की विधानसभा सदस्यता खत्म हो गई है। एमपी-एमएलए कोर्ट में अनंत सिंह को 10 साल की सजा सुनाई गई थी। उनके घर से एके 47 और हैंड ग्रेनेड मिलने के केस में 14 जून को स्पेशल कोर्ट में सुनवाई हुई थी जिसमें उन्हें दोषी पाया गया था। इसके बाद कोर्ट ने 21 जून को 10 साल की सजा सुनाई। अनंत सिंह करीब 34 महीने से पटना के बेऊर जेल में बंद हैं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;