मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड: मुख्य आरोपी के पास से मिले 40 मोबाइल नंबर, बेटे को सीबीआई ने पूछताछ के बाद छोड़ा

मुजफ्फरपुर बालिका गृह का मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर

मुजफ्फरपुर बालिक गृह में बच्चियों के साथ दुष्कर्म के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के पास से जेल में 40 मोबाइल नंबर मिले हैं। पुलिस ने कहा कि अधिकारियों ने आरोपी को उस जगह पर देखा जहां लोग कैदियों से मिलने आते हैं। वहीं से मोबाइल नंबर की सूची बरामद की गई है।

बिहार के मुजफ्फरपुर के बालिका गृह में बच्चियों के साथ दुष्कर्म मामले का मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के बेटे राहुल आनंद को सीबीआई ने हिरासत में पूछताछ के बाद छोड़ दिया है। इससे पहले सीबीआई की टीम ने शनिवार को उसके घर की तलाशी लेने और पूछताछ के बाद उसे हिरासत में लिया था। सीबीआई की टीम ब्रजेश ठाकुर के साहू रोड स्थित आवास पर शनिवार सुबह करीब 9 बजे पहुंची थी और करीब रात 8 बजे उसके बेटे राहुल आनंद के साथ वहां से रवाना हुई थी। राहुल आनंद ‘प्रात: कमल’ का प्रकाशक और संपादक है, जो उसके आवासीय परिसर और बालिका गृह के अंदर ही स्थित है।

इस बीच बिहार पुलिस को शनिवार को ब्रजेश ठाकुर के पास से 40 मोबाइल फोन नंबर की सूची मिली है। पुलिस ने कहा कि अधिकारियों ने ठाकुर को उस जगह पर देखा जहां लोग कैदियों से मिलने आते हैं। वहां से उन्हें हाथ से लिखी दो पर्चियां मिलीं जिसमें 40 मोबाइल नंबर और नाम लिखे थे। जिला प्रशासन के एक अधिकारी ने कहा कि सूची में एक मंत्री सहित कई प्रमुख लोगों के नाम हैं। यह सूची ठाकुर के पास से तलाशी में मिली।

ब्रजेश ठाकुर को 2 जून को गिरफ्तार किया गया था और तब से वह सिर्फ 5 दिन जेल में रहा है। अभी वह स्वास्थ्य कारणों से कैदी वार्ड की जगह मेडिकल वार्ड में रह रहा है।

वहीं पटना उच्च न्यायालय इस मामले की सीबीआई जांच की निगरानी कर रहा है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

सबसे लोकप्रिय

अखबार सब्सक्राइब करें