बिहार: शराब तस्करी के आरोपों में घिरे मंत्री की बढ़ी मुश्किलें, तेजस्वी के बाद बीजेपी के विधायक ने भी घेरा

बीजेपी विधायक अशोक कुमार सिंह ने अपनी ही पार्टी के मंत्री राम सूरत राय पर सवाल उठाते हुए कहा कि 2017 में उन्होंने उन्हें और वरिष्ठ नेता नंदकिशोर यादव को स्कूल में साइकिल रेस इवेंट के लिए आमंत्रित किया था। मुझे यकीन है कि स्कूल केवल उन्हीं का है।

फाइल फोटोः सोशल मीडिया
फाइल फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के बाद मुजफ्फरपुर के पारू विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक अशोक कुमार सिंह ने भी नीतीश सरकार के कैबिनेट मंत्री राम सूरत राय को शराब तस्करी मामले में उनकी कथित संलिप्तता को लेकर सवाल उठा दिया है।

बीजेपी के विधायक अशोक कुमार सिंह ने अपनी ही पार्टी के मंत्री पर लग रहे आरोपों पर कहा, "2017 में, राय ने मुझे और वरिष्ठ नेता नंदकिशोर यादव को स्कूल में साइकिल रेस इवेंट के लिए आमंत्रित किया था, जहां 8 नवंबर, 2020 को शराब मिली थी। मुझे पूरा यकीन है कि स्कूल केवल उन्हीं का है।"

अशोक सिंह ने कहा, "उस घटना के अलावा, उन्होंने मुझे उस स्कूल में अपने पिता की प्रतिमा के अनावरण के मौके पर भी आमंत्रित किया था।" हालांकि, उन्होंने आगे कहा, "हमारे मुख्यमंत्री किसी भी गलत काम को बर्दाश्त नहीं करेंगे। अगर मंत्री पर आरोप सही साबित हुए तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।"

बता दें कि बिहार के मुजफ्फरपुर के एक स्कूल से शराब बरामदगी के मामले को पिछले हफ्ते विधानसभा में उठाते हुए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार के मंत्री राम सूरत राय पर शराब तस्करी का आरोप लगाया था। तेजस्वी ने आरोप लगाया था कि जिस स्कूल से शराब बरामद हुई है वह मंत्री राय का है। हालांकि इसे बाद मंत्री ने प्रेस कांफ्रेंस कर इस मामले में अपनी भागीदारी से इनकार किया था।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 16 Mar 2021, 12:10 AM
;