बिहार: अग्निपथ योजना को वापस लेने की मांग को लेकर विपक्षी महागठबंधन आज निकालेगा मार्च, मोदी सरकार पर उठाए सवाल

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव के नेतृत्व में महागठबंधन के सभी विधायक बिहार विधानसभा से लेकर राजभवन तक पैदल मार्च करेंगे। राज्यपाल से मिलकर महागठबंधन की तरफ से अग्निपथ स्कीम को वापस लेने की मांग से संबंधित ज्ञापन राज्यपाल को सौपेंगे।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

सेना भर्ती की योजना अग्निपथ को लेकर बिहार में प्रदर्शन थम गया। पिछले तीन दिनों से पूरे राज्य में शांति कायम है। बिहार में विपक्षी दलों का महागठबंधन बुधवार को अग्निपथ योजना के विरोध में राजभवन मार्च करने वाला है। अग्निपथ योजना को लेकर बिहार में विपक्षी दल केंद्र पर लगातार निशाना साध रहा है। महागठबंधन इस योजना के खिलाफ 22 जून को यानी आज राजभवन तक मार्च करेंगे।

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव के नेतृत्व में महागठबंधन के सभी विधायक बिहार विधानसभा से लेकर राजभवन तक पैदल मार्च करेंगे। राज्यपाल से मिलकर महागठबंधन की तरफ से अग्निपथ स्कीम को वापस लेने की मांग से संबंधित ज्ञापन राज्यपाल को सौपेंगे।

भाकपा-माले राज्य सचिव कुणाल ने बताया कि बिहार सरकार आंदोलनकारियों के जबदरस्त दमन पर उतर आई है। मुकदमे थोपे जा रहे हैं और जगह-जगह निर्दोष लोगों की गिरफ्तारी हो रही है। हम सरकार से मांग करते हैं कि आंदोलनकारियों पर से तमाम मुकदमे वापस और सभी गिरफ्तार छात्र-युवाओं को रिहा किया जाए।

उन्होंने कहा कि पूरा देश सरकार की अग्निपथ योजना को मानने को तैयार नहीं है, फिर भी मोदी सरकार अड़ियल रवैया अपना रही है और जनभावना का अनादर कर रही है। यहां तक कि वह आंदोलन को बदनाम करने की कोशिश कर रही है।


हम बिहार सरकार से मांग करते हैं कि यदि वह सचमुच अग्निपथ योजना के खिलाफ है, तो विधानसभा के आगामी सत्र में इस योजना के खिलाफ प्रस्ताव पारित करे। उन्होंने बताया कि 22 जून को पटना में भाकपा-माले व महागठबंधन के सभी घटक दलों के विधायक राजभवन मार्च करेंगे।

माले राज्य सचिव ने कहा कि मोदी सरकार के इस अड़ियल रवैये के खिलाफ कृषि कानूनों के खिलाफ चले किसान आंदोलन से सीखते हुए सरकार को झुकाने के लिए छात्र-युवा समुदाय को लंबी लड़ाई की योजना बनानी चाहिए।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia