बिहार पंचायत चुनावः बोगस वोटिंग से रोकने पर एएसआई की पिटाई, नीतीश सरकार के पुख्ता सुरक्षा के दावे पर उठे सवाल

पूर्वी चंपारण में आज पंचायत चुनाव के दौरान एक मतदान केंद्र पर एक प्रत्याशी के कुछ समर्थकों द्वारा बोगस वोटिंग रोकने की कोशिश करने पर मतदान केंद्र की सुरक्षा में तैनात एएसआई अजय कुमार पर असामाजिक तत्वों ने हमला कर दिया और उनके साथ मारपीट भी की गई।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बिहार में बुधवार को पंचायत चुनाव के दूसरे चरण का मतदान हुआ। मतदान के दौरान पूर्वी चंपारण जिले में बोगस वोटिंग से रोकने पर एक सहायक अवर निरीक्षक (एएसआई) के साथ असमाजिक तत्वों द्वारा मारपीट करने का मामला सामने आया है, जिसने चुनाव में पुख्ता सुरक्षा के नीतीश सरकार के दावों पर सवाल खड़े कर दिए हैं। इस घटना का वीडियो भी सोशल साइटों पर अब वायरल हो रहा है।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि फेनहारा के रूपोलिया मध्य विद्यालय के मतदान केंद्र संख्या 48 पर मतदान का कार्य सुचारू रूप से चल रहा था। बताया जाता है कि इसी क्रम में एक प्रत्याशी के कुछ समर्थक वहां पहुंच गए और मतदान केंद्र में जाने की कोशिश की और मतदाताओं पर एक खास प्रत्याशी के पक्ष में मतदान करने के लिए दबाव बनाने लगे।


इसी क्रम में मतदान केंद्र की सुरक्षा में तैनात एएसआई अजय कुमार ने इसका विरोध किया। आरोप है कि एएसआई के विरोध से नाराज असमाजिक तत्वों ने एएसआई का कॉलर पकड़ लिया और उन्हें धक्का देकर गिरा दिया। आरोप है कि असामाजिक तत्वों ने एएसआई को घसीट कर कुछ दूर ले गए और उनसे मारपीट भी की गई।

इस हंगामे के बाद अन्य पुलिसकर्मियों और आसपास के लोगों के आने पर एएसआई को उन तत्वों के चंगुल से छुड़ाया गया। मतदान केंद्र संख्या 48 पर हंगामे की खबर के बाद पूर्वी चंपारण के पुलिस अधीक्षक नवीन चंद्र झा भी खुद मतदान केंद्र पहुंचे। उन्होंने बताया कि वीडियो प्राप्त हुआ है, जिसमें कुछ लोग मारपीट करते दिख रहे हैं। उन्होंने कहा कि असमाजिक तत्व आए थे और मारपीट की है। इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार भी किया गया है।


बता दें कि बिहार में बुधवार को पंचायत चुनाव के दूसरे चरण का मतदान था। इसमें 34 जिले के 48 प्रखंडों में मतदान हुआ। मतदाताओं के लिए 9686 मतदान केंद्र बनाए गए थे। सरकार का दावा है कि चुनाव को लेकर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। राज्य में कुल 11 चरणों में पंचायत चुनाव होने हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia