बिहार: लालू यादव के ठिकानों पर CBI की छापेमारी पर गरमाई सियासत, पटना में RJD कार्यकर्ताओं ने किया विरोध-प्रदर्शन

आरजेडी कार्यकर्ताओं ने पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास के सामने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। आरजेडी के नेताओं ने सरकार पर लालू प्रसाद परिवार को परेशान करने का आरोप लगाए।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री एवं आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद के 16 परिसरों पर शुक्रवार को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की अलग-अलग टीमों की छापेमारी से आरजेडी के नेता और कार्यकर्ता गुस्से में हैं। आरजेडी कार्यकर्ताओं ने पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास के सामने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। आरजेडी के नेताओं ने सरकार पर लालू प्रसाद परिवार को परेशान करने का आरोप लगाए।

सूत्रों के मुताबिक, लालू प्रसाद के पटना, दिल्ली और गोपालगंज समेत 16 परिसरों पर एक साथ छापेमारी की गई है। बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास पर भी सीबीआई की टीम ने छापेमारी की है। राबड़ी देवी आवास में ही हैं।

सीबीआई सूत्रों का कहना है कि यह मामला लालू प्रसाद के रेल मंत्री रहते सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर कथित रूप से रिश्वत लेने, जमीन और संपत्ति लेने के मामले से जुड़ा है। इसकी जांच के सिलसिले में छापेमारी की गई है। आरजेडी ने इस छापेमारी को लालू प्रसाद और उनके परिजन को परेशान करने का आरोप लगाया।

आरजेडी के विधायक मुकेश रौशन ने कहा कि आरजेडी के प्रमुख और उनके परिजन को परेशान किया जा रहा है। उन्होंने इसे बदले की कारवाई बताते हुए कहा कि तेजस्वी देश के बाहर हैं जबकि लालू प्रसाद दिल्ली में हैं।


इस बीच, आरजेडी के नेता शक्ति यादव ने कहा कि विरोधी लालू और तेजस्वी की बढ़ती लोकप्रियता को पचा नहीं पा रहे हैं। इस कारण इस तरह के हथकंडे अपनाए जा रहे हैं। लालू प्रसाद चारा घोटाले के पांच मामलों में पहले ही दोषी करार दिए गए हैं।

गौरतलब है कि आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद दिल्ली में स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं, जबकि राजद नेता तेजस्वी यादव देश से बाहर हैं। पटना स्थित राबड़ी देवी आवास पर सीबीआई की छापेमारी की सूचना के बाद आरजेडी के नेता और कार्यकर्ता बड़ी संख्या में पहुंचे हुए हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia