बिहार: जिस तहसील में है नीतीश का घर वहां गिरी जल नल योजना की टंकी, 8 महीने पहले हुआ था निर्माण, लगे गंभीर आरोप

8 महीने पहले नीतीश कुमार के होम ब्लॉक में सार्वजनिक स्वास्थ्य और इंजीनियरिंग विभाग (पीएचईडी) द्वारा बनाई गई इस टंकी को लेकर ग्रामीण लगातार शिकायत कर रहे थे। ग्रामीणों का कहना था कि इस टंकी को बनाने में घटिया सामग्री का इस्तेमाल किया गया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

विनय कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट 'हर घर नल का जल' को सोमवार को जबरदस्त झटका लगा है। दरअसल, इस प्रोजेक्ट के तहत बनाई गई पानी की टंकी भरभराकर गिर गई है, वो भी और कहीं नहीं बल्कि उसी तहसील में जहां उनका घर है। यह हादसा नालंदा जिले के हरनौत तहसील के अंतर्गत आने वाले बस्ती गांव में हुआ है। 8 महीने पहले नीतीश कुमार के होम ब्लॉक में सार्वजनिक स्वास्थ्य और इंजीनियरिंग विभाग (पीएचईडी) द्वारा बनाई गई इस टंकी को लेकर ग्रामीण लगातार शिकायत कर रहे थे। ग्रामीणों का कहना था कि इस टंकी को बनाने में घटिया सामग्री का इस्तेमाल किया गया है।

वहीं पीएचईडी के जूनियर इंजीनियर ने अभय सिंह ने इन दावों को नकारते हुए कहा, "जांच में पता चला है कि कुछ असामाजिक तत्वों ने टैंक के नट बोल्ट खोल दिए थे, जिसके कारण वह गिर गई। हम घटना की जांच कर रहे हैं और जल्द ही आरोपी को खोज लेंगे।" हालांकि उन्होंने हरनौत ब्लॉक के मुधरी, सिलाव और अन्य करीबी गांवों में पानी के कई ओवरहेड टैंक गिरने की बात स्वीकार कर ली है।

बता दें कि नीतीश कुमार सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना का मकसद गांवों में हर घर में पीने का पानी उपलब्ध कराना है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय
next