दिल्ली के चिड़ियाघर में भी बर्ड फ्लू की एंट्री, उल्लू का सैम्पल निकला पॉजिटिव, मचा हड़कंप!

चिड़ियाघर में मृत पाए गए इस उल्लू के खून का सैंपल बर्ड फ्लू टेस्ट के लिए भेजा गया था। टेस्ट के उपरांत यह सैंपल पॉजिटिव पाया गया है। चिड़ियाघर प्रशासन के मुताबिक मृत पाए गए उल्लू में एच5 एन8 एवियन इन्फ्लूएंजा की पुष्टि हुई है।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

आईएएनएस

दिल्ली में चिड़ियाघर के अंदर बर्ड फ्लू का मामला सामने आया है। चिड़ियाघर में बर्ड फ्लू का यह पहला मामला है। चिड़ियाघर में उल्लू के शरीर में बर्ड फ्लू मिला है। इस उल्लू की मौत हो चुकी है। चिड़ियाघर में लोगों की आवाजाही पर ही रोक दी गई है। चिड़ियाघर में मृत पाए गए इस उल्लू के खून का सैंपल बर्ड फ्लू टेस्ट के लिए भेजा गया था। टेस्ट के उपरांत यह सैंपल पॉजिटिव पाया गया है। चिड़ियाघर प्रशासन के मुताबिक मृत पाए गए उल्लू में एच5 एन8 एवियन इन्फ्लूएंजा की पुष्टि हुई है। इस जांच रिपोर्ट के बाद पूरे चिड़ियाघर में तुरंत ही सैनिटाइजेशन का काम शुरू कर दिया गया है।

हालांकि दिल्ली में पहले ही बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है। राजधानी के कई इलाकों में बर्ड फ्लू के कारण पक्षियों की मौत हुई है। दिल्ली के संजय लेक से बतखों के नमूनों की पॉजिटिव रिपोर्ट आ चुकी है। इसके बाद दिल्ली में अन्य राज्यों से आने वाले प्रोसेस्ड चिकन और लाइव स्टॉक पर भी रोक लगा दी गई थी। इसके साथ ही अभी दिल्ली की मुर्गा मंडी भी बंद रहेगी। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, "संजय लेक से बतखों के नमूनों की पॉजिटिव रिपोर्ट आई। इसके कारण उस क्षेत्र को अच्छी तरह सेनेटाइज किया जा रहा है। अगर वहां बतखों के पंख फैले हों या उनका कुछ अन्य पदार्थ गिरा हो तो उससे संक्रमण न हो, इसके लिए पूरी सफाई कराई जा रही है।"

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में बर्ड फ्लू से घबराने की कोई बात नहीं है। पशुपालन इकाई, विकास विभाग के अधिकारियों को राज्य भर में सघन अभियान चलाने का निर्देश दिया गया है। उपमुख्यमंत्री ने कहा, "एहतियात के तौर पर लाइव स्टॉक, मुर्गा इत्यादि बाहर से लाने पर रोक लगाई गई है। साथ ही, पैकेज्ड चिकन या प्रोसेस्ड चिकन को भी बाहर से लाकर दिल्ली में बेचने पर रोक है। ऐसा इसलिए है ताकि एक राज्य से दूसरे राज्य में संक्रमण रोका जा सके। लेकिन बर्ड फ्लू से घबराने की कोई जरूरत नहीं है। यह एक सामान्य इन्फ्लूएंजा है।"

दिल्ली सरकार के मुताबिक पक्षी से मनुष्य में इसके फैलने की बात अब तक सामने नहीं आई है। जो लोग चिकन खाते हैं, उन्हें भी घबराने की जरूरत नहीं है। पूरी तरह पके हुए चिकन या उबले और पकाए हुए अंडे से संक्रमण का खतरा नहीं है।

उल्लेखनीय है कि दिल्ली सरकार ने गत 28 अक्टूबर 2020 को ही राज्य के सभी डॉक्टर्स और संबंधित लोगों को अलर्ट जारी करके बर्ड फ्लू की निगरानी का निर्देश जारी कर दिया था। इसके बाद चार जनवरी 2021 को भी सभी डॉक्टर्स को लगातार नमूना संग्रह करने तथा कड़ी निगरानी का दिशानिर्देश जारी किया गया।

दिल्ली सरकार के पशुपालन इकाई, विकास विभाग के सभी 48 वेटनरी अस्पताल के डॉक्टर लगातार राज्य भर में बर्ड फ्लू की निगरानी कर रहे हैं। साथ ही, 11 रैपिड रिस्पॉन्स टीम बनाई गई हैं, जो लगातार नमूनों का संग्रह कर रही हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय
next