पंजाब रैली में भीड़ नहीं आई तो सुरक्षा चूक का बहाना बना रही बीजेपी, प्रधानमंत्री पद की गरिमा का रखे ख्याल- कांग्रेस

राज्य के सीएम चरणजीत चन्नी ने कहा कि बीजेपी के नेता राजनीति कर रहे हैं। प्रधानमंत्री का हेलीकॉप्टर से जाने का कार्यक्रम था। अचानक रूट बदला गया। मैं अपने किसानों पर लाठीचार्ज नहीं करवा सकता। अगर प्रधानमंत्री सुरक्षा में चूक हुई है तो इसकी जांच करवाएंगे।

फोटोः स्क्रीनशॉट
फोटोः स्क्रीनशॉट
user

नवजीवन डेस्क

पंजाब में रैली के लिए गए प्रधानमंत्री की सुरक्षा में कथित चूक के आरोपों पर कांग्रेस ने बीजेपी पर हमला बोला है। रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि पंजाब के फिरोजपुर में पीएम मोदी की रैली में भीड़ नहीं आई तो सुरक्षा में चूक का बहाना बनाकर जनसभा को रद्द किया गया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री पद की गरिमा को धूमिल नहीं करना चाहिए।

कांग्रेस महासचिव और पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बुधवार को कहा कि यह आरोप-प्रत्यारोप करने की बजाय भाजपा और प्रधानमंत्री को अपने 'किसान विरोधी रुख' पर आत्ममंथन करना चाहिए कि आखिर क्यों किसान केंद्र का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के पद की गरिमा को धूमिल नहीं करना चाहिए।


सुरजेवाला ने दावा किया कि प्रधानमंत्री मोदी ने अंतिम समय में अपने रूट में परिवर्तन किया। प्रधानमंत्री की सुरक्षा की जिम्मेदारी विशेष सुरक्षा दल (एसपीजी) की होती है। एसपीजी ही रूट निर्धारित करती है। सुरक्षा में हुई चूक एसपीजी की है क्योंकि राज्य सरकारों की पुलिस केवल एसपीजी को सहयोग करती हैं। उन्होंने कहा कि भटिंडा एयरपोर्ट से सड़क मार्ग से फिरोजपुर जाने का फैसला प्रधानमंत्री ने अंतिम समय में लिया। इस वजह से पंजाब पुलिस को रूट मैनेज करने में दिक्कत हुई। सड़क मार्ग का उपयोग करना प्रधानमंत्री के पहले से तय कार्यक्रम का हिस्सा नहीं था।

सुरजेवाला ने दावा किया कि रैली स्थल पर पंजाब पुलिस के 10 हजार पुलिसकर्मियों को प्रधानमंत्री की सुरक्षा में लगाया गया था। अचानक रूट बदलने से पुलिसकर्मियों को प्रधानमंत्री के रूट में आए प्रदर्शनकारियों को हटाने में 15 मिनट का समय लगा। उन्होंने कहा यह प्रदर्शनकारी किसान संयुक्त मोर्चा और किसान मजदूर संघर्ष समिति के सदस्य थे। जो लगातार केंद्र सरकार से अपनी मांगे कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी पूरे देश के प्रधानमंत्री हैं और कांग्रेस पार्टी के लिए भी बेहद महत्वपूर्ण हैं। कांग्रेस शासित सरकारें हमेशा उनका स्वागत करने के लिए तैयार हैं।


वहीं इस मसले पर पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का बयान सामने आया है। उन्होंने प्रेसवार्ता कर कहा, "प्रधानमंत्री का हेलीकॉप्टर से जाने का कार्यक्रम था..अचानक रूट बदला गया। बीजेपी के नेता राजनीति कर रहे हैं। मैं अपने किसान पर लाठीचार्ज नहीं करवा सकता। उन्होंने कहा कि अगर प्रधानमंत्री सुरक्षा में चूक हुई है तो पंजाब सरकार इसकी जांच करवायेगी।''

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बुधवार को पंजाब दौरे थे। जहां इन्हें एक रैली को संबोधित करने के लिए जाना था। पीएम सबसे पहले भठिंडा पहुंचे थे। जिसके बाद उन्हें हेलीकॉप्टर से हुसैनीवाला में राष्ट्रीय शहीद स्मारक के लिए जाना था। लेकिन खराब मौसम चलते उन्होंने सड़क मार्ग से जाने का फैसला किया, जहां प्रदर्शनकारियों ने उनके रूट में आने की वजह से प्रधानमंत्री के काफिले को 15 मिनट तक इंतजार करना पड़ा।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia