मणिपुर में पुलिस अधिकारी की हत्या के आरोप में BJP नेता और पूर्व सैनिक गिरफ्तार, पार्टी ने किया निष्कासित

बीजेपी नेता की पहचान 36 वर्षीय हेमखोलाल मटे के रूप में की गई, जो पार्टी की टेंग्नौपाल इकाई के कोषाध्यक्ष हैं। मेट के मौलसांग गांव के प्रमुख और मेट जनजाति संघ (एमटीयू) के वित्त सचिव भी हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

पुलिस अधिकारी चिंगथम आनंद कुमार की हत्या के मामले में सत्तारूढ़ बीजेपी के एक नेता और एक पूर्व सैनिक को मणिपुर के सीमावर्ती मोरेह शहर से गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

बीजेपी नेता की पहचान 36 वर्षीय हेमखोलाल मटे के रूप में की गई, जो पार्टी की टेंग्नौपाल इकाई के कोषाध्यक्ष हैं। मेट के मौलसांग गांव के प्रमुख और मेट जनजाति संघ (एमटीयू) के वित्त सचिव भी हैं।

पुलिस ने कहा कि राज्य बलों की एक संयुक्त टीम ने सोमवार रात मेट और मुख्य आरोपी, पूर्व सैनिक और मोरेह यूथ क्लब के अध्यक्ष फिलिप खैखोलाल खोंगसाई को गिरफ्तार कर लिया।

प्रदेश बीजेपी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एन. निंबस सिंह ने कहा कि पार्टी कार्यकारिणी ने मेट की गिरफ्तारी के तुरंत बाद अपनी आपात बैठक में उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया।

टेंग्नौपाल जिले के मोरेह के उपमंडलीय पुलिस अधिकारी आनंद कुमार की पिछले साल 31 अक्टूबर को सीमावर्ती शहर के ईस्टर्न शाइन ग्राउंड में ड्यूटी के दौरान एक स्नाइपर ने हत्या कर दी थी। जब वह मोरेह में हेलीकॉप्टर लैंडिंग के लिए ईस्टर्न शाइन ग्राउंड की सफाई की निगरानी कर रहे थे, उस समय एसडीपीओ को गोली मार दी गई और बाद में अस्पताल में उनकी मौत हो गई।

दोनों की गिरफ्तारी पर सीमावर्ती शहर के कुछ लोगों ने मंगलवार को उनकी रिहाई की मांग की, जबकि इंफाल घाटी में मामले को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को सौंपने और बंदियों को अनुकरणीय सजा देने की मांग को लेकर व्यापक विरोध प्रदर्शन होता देखा गया।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;