खालिस्तान-पाकिस्तान का नाम लेकर किसानों पर बरसे साक्षी महाराज, बताया- कृषि कानून वापसी का चुनावों से क्या है कनेक्शन

बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने कहा कि इस बिल का चुनाव से दूर-दूर तक कोई लेना देना नहीं है। आप अच्छी तरह से जानते हैं कि तथाकथित किसानों के गठजोड़ में उनके मंच से पाकिस्तान जिंदा, खालिस्तान जिंदाबाद जैसे अपवित्र नारे लग रहे थे।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

केंद्र की मोदी सरकार ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने से पूरी तरह से इनकार कर दिया था। अचानक पीएम मोदी ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा कर दी। ऐसे में सवाल उठाए जा रहे हैं कि क्या कई राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों को देखते हुए मोदी सरकार ने यह फैसला लिया है। जब यह सवाल बीजेपी सांसद साक्षी महाराज से पूछा गया तो वह तिलमिला उठे। उन्होंने इस आरोप को सिरे से खारिज कर दिया। उल्टे एक बार फिर उन्होंने किसानों को निशाने पर लिया। उन्होंने अंदोलनकारियों के मंच से पाकिस्तान जिंदाबाद, खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने के आरोप लगाए।

उन्होंने कहा, “इस बिल का चुनाव से दूर-दूर तक का कोई लेना देना नहीं है। आप अच्छी तरह से जानते हैं कि तथाकथित किसानों के गठजोड़ में उनके मंच से पाकिस्तान जिंदा, खालिस्तान जिंदाबाद जैसे अपवित्र नारे लग रहे थे। मोदीजी और बीजेपी के लिए पहले राष्ट्र है। बिल तो बनते रहते हैं, बिगड़ते रहते हैं। वापस आ जाएंगे, दोबारा बन जाएंगे। लेकिन, मैं मोदीजी का हृदय से धन्यवाद करूंगा कि उन्होंने बड़े मन का और बड़े दिल का परिचय दिया। उन्होंने बिल और राष्ट्र में से राष्ट्र को चुना। जिन लोगों के गलत मंसूबे थे, उसके ऊपर एक अच्छा प्रहार किया है।”


साक्षी महाराज ने आगे कहा, “देश में जहा तक चुनाव का सवाल है, मोदी और योगी का कोई तोड़ नहीं है। उत्तर प्रदेश का जहां तक मामला है। वहां भारी बहुमत से बीजेपी सरकार बनाएगी। योगी और मोदी का जादू बरकरार रहेगा।”

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 21 Nov 2021, 11:13 AM