लाल किले पर सिख पंथ का झंडा फहराने के मामले में बीजेपी सांसद के नजदीकी दीप सिंधु को एनआईए ने तलब किया

लाल किले पर निशान साहिब फहराने के मामले में एनआईए ने बीजेपी सांसद सनी देओल के नजदीकी दीप सिंधु को तलब किया है। इससे पहले दीप सिंधु को सिख फॉर जस्टिस केस में भी एनआईए तलब कर चुकी है। दीप सिंधु ने लाल किले पर पताका फहराने का वीडियो खुद ही शेयर किया है।

फोटो : आईएएनएस
फोटो : आईएएनएस
user

नवजीवन डेस्क

नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी – एनआईए ने लाल किले पर सिख पंथ का झंडा लहराने के मामले में बीजेपी नेताओं से नजदीकियां रखने वाले पंजाबी अभिनेता दीप सिंधु को तलब किया है। दीप सिंधु पर आरोप है कि उन्होंने अपने साथियों के साथ लाल किले की प्राचीर पर चढ़कर सिख पंथ की पताका लहराई। दीप सिंधु ने इस घटना का वीडियो खुद ही फेसबुक पर शेयर किया है। आरोप है कि दीप सिंधु के साथी पुलिस कर्मियों को धक्का देते हुए लाल किले की प्राचीर पर चढ़ गए और वहां सि पथ का झंडा जिसे निशान साहिब कहा जाता है फहराया। गौरतलब है कि दीप सिंधु को एनआईए पिछले महीने सिख फॉर जस्टिस मामले में भी तलब कर चुकी है।

दीप सिंधु ने इस पूरी घटना का अपने फेसबुक पेज पर लाइव प्रसारण किया। उन्होंने वीडियो में कहा कि, “हमने विरोध जताने के अपने लोकतांत्रिक अधिकार का प्रयोग करते हुए लाल किले पर सिर्फ निशान साहिब का झंडा फहराया है।“

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी सांसद सनी देओल के साथ दीप सिंधु
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी सांसद सनी देओल के साथ दीप सिंधु

ध्यान रहे कि कृषि कानूनों का विरोध कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा ने दीप सिंधु से दूरी बनाई हुई है। पिछले दिनों दीप सिंधु ने सिंघु बॉर्डर पहुंच कर भाषण देने की कोशिश की थी, जिसे किसानों ने नहीं करने दिया था। संयुक्त किसान मोर्चा ने भी दीप सिंधु पर किसानों को भटकाकर लाल किले की तरफ ले जाने का आरोप लगाया है। एसकेएम ने कहा कि सिद्धू सोमवार रात को एक मंच पर दिखे थे और भड़काऊ भाषण देकर तोड़फोड़ की थी।


गृह मंत्री अमित शाह के साथ दीप सिंधु
गृह मंत्री अमित शाह के साथ दीप सिंधु

दीप सिंधु गुरदासपुर से बीजेपी सांसद और बॉलीवुड अभिनेता सनी देओल के करीबी हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव में वे उनके चुनाव प्रभारी थे। सनी देओल को साथ ही दीप सिंधु की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के साथ सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं।

(आईएएनएस इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia