लोगों को स्वास्थ्य सेवा देने में BJP शासित UP और MP फिसड्डी, नीति आयोग का हेल्थ इंडेक्स जारी, केरल पहले स्थान पर

स्वास्थ्य सेवा जैसी बुनियादी सुविधा देने के मामले में उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों की ये हालत इस तथ्य के बावजूद है कि वहां पीएम मोदी के कथन के मुताबिक डबल इंजन की सरकार है, जो कथित तौर पर ज्यादा तेजी और बेहतर तरीके से काम करती है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश में आम लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं देने के मामले में बीजेपी शासित उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश फिसड्डी साबित हुए हैं। जबकि केरल और तमिलनाडु जैसे दक्षिणी राज्यों ने अव्वल रहकर उदाहरण पेश किया है। दरअसल नीति आयोग ने सोमवार को हेल्थ इंडेक्स जारी किया है, जिसमें यूपी, बिहार और एमपी जैसे बीजेपी शासित राज्यों की हालत खराब है। हेल्थ इंडेक्स में उत्तर प्रदेश 19वें तो बिहार 18वें नंबर पर है।

हेल्थ इंडेक्स के मुताबिक स्वास्थ्य सेवा देने के मामले में केरल देश में पहले नंबर और तमिलनाडु दूसरे नंबर पर है। वहीं बेहतर स्वास्थ्य सेवा देने के मामले में छोटे राज्यो में मिजोरम पहले स्थान पर, जबकि त्रिपुरा दूसरे नंबर पर और नागालैंड सबसे नीचले स्थान पर रहा। वहीं, केंद्र शासित प्रदेशों में दादरा नगर हवेली पहले तो चंडीगढ दूसरे नंबर पर आया है। वहीं दिल्ली 5वें नंबर पर है।


नीति आयोग ने हेल्थ इंडेक्स जारी करते हुए इसे तैयार करने की प्रक्रिया भी बताई है। आयोग के मुताबिक इसके लिए चार राउंड का सर्वे किया गया था और उसके हिसाब से स्कोरिंग की गई। इसमें केरल चारों राउंड में टॉप पर रहा। केरल का ओवरऑल स्कोर 82.20 रहा, जबकि दूसरे नंबर पर आए तमिलनाडु का प्वाइंट 72.42 रहा। इस इंडेक्स में सबसे कम स्कोर उत्तर प्रदेश का रहा, जो 30.57 था।

गौरतलब है कि स्वास्थ्य सेवा जैसी बुनियादी सुविधा देने के मामले में उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों की ये हालत इस तथ्य के बावजूद है कि वहां पीएम मोदी के कथन के मुताबिक डबल इंजन की सरकार है, जो ज्यादा तेजी और बेहतर तरीके से काम करती है। एक और खास बात ये है कि लोगों को स्वास्थ्य सेवा देने के मामले में इन राज्यों की ये हालत कोरोना महामारी के समय है, जो और ज्यादा चिंता का विषय है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia