बंगाल, महाराष्ट्र के बाद बीजेपी पंजाब में भी राज्यपाल कार्यालय का इस्तेमाल करने की कोशिश में: अमरिंदर सिंह

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बीजेपी पर आरोप लगाया है कि महाराष्ट्र और बंगाल की तर्ज पर वह सत्ता के लिए पंजाब में भी राज्यपाल कार्यालय का इस्तेमाल करने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने राज्यपाल की प्रतिष्ठा को कम किया है।

फोटो : आईएएनएस
फोटो : आईएएनएस
user

आईएएनएस

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने रविवार को बीजेपी के प्रदेश नेतृत्व पर राज्यपाल के कार्यालय की 'प्रतिष्ठा को कम करने' का आरोप लगाया। बीजेपी की राज्य इकाई के ट्वीट पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पंजाब को एक और पश्चिम बंगाल बनाने की कोशिश करने का आरोप लगाते हुए, मुख्यमंत्री ने कहा कि, "सत्ता की भूखी बीजेपी अपने निहित स्वार्थो के लिए राज्यपाल के कार्यालय का उपयोग करने की कोशिश कर रही है।"

अमरिंदर सिंह ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, "यह पश्चिम बंगाल में हो रहा है, महाराष्ट्र में हुआ है, और अब वे पंजाब में भी ऐसा ही करने की कोशिश कर रहे हैं।" मुख्यमंत्री ने कहा, "सभी लोकतांत्रिक और संवैधानिक संस्थानों को व्यवस्थित रूप से रौंद रही भाजपा ने राज्यपाल के कार्यालय को भी नहीं बख्शा है।" अमरिंदर ने तंज कसते हुए कहा, "क्या इन भाजपा नेताओं को नहीं पता है कि मेरे राज्य की कानून और व्यवस्था की जिम्मेदारी मेरे साथ न केवल मुख्यमंत्री के रूप में है, बल्कि गृह मंत्री के रूप में भी है।"

उन्होंने कहा कि पंजाब के बीजेपी नेताओं से आग्रह है कि पहले संवैधानिक मामलों पर बोलने से पहले भारतीय संविधान की एबीसी सीखें। अमरिंदर ने कहा, यह दुख की बात है कि ऐसे समय में जब किसान पिछले लगभग 40 दिनों से दिल्ली की सीमाओं पर विरोध प्रदर्शन करते हुए कड़कड़ाती ठंड में मर रहे हैं, बीजेपी सस्ती राजनीति में व्यस्त है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय