अखिलेश यादव का दावा- विधानसभा चुनाव में भारी अंतर से हारेगी बीजेपी, सत्ता में आते ही ईवीएम हटाएंगे

अखिलेश यादव ने कहा कि सदन के भीतर बीजेपी सरकार अपनी गरिमा खो चुकी है। सदन के भीतर सरकार की भाषा बदल गई है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में ठोक दो की भाषा नहीं हो सकती है। इससे मालूम चलता है कि अब यह सरकार जाने वाली है।

फाइल फोटोः सोशल मीडिया
फाइल फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

समाजवादी पार्टी (एसपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज कहा कि विधानसभा चुनाव में 350 से ज्यादा सीट जीतकर एसपी सरकार बनाएगी। उन्होंने कहा कि बीजेपी आगामी चुनाव इतने बड़े अंतर से हारेगी जिसकी उसने कभी कल्पना भी नहीं की होगी। साथ ही उन्होंने कहा कि एसपी की सरकार बनते ही ईवीएम को हटाएंगे और इसके लिए अभियान चलाएंगे।

गुरुवार को झांसी पहुंचे एसपी प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी इतने बड़े अंतर से हारेगी, जिसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की होगी। अखिलेश ने कहा कि उत्तर प्रदेश में बिहार चुनाव जैसी स्थिति नहीं होगी। उन्होंने कहा कि एसपी 350 से अधिक सीटें जीतेगी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने राज्यसभा में बहुमत नहीं होने के बावजूद तीनों कृषि कानून जबरन पारित करा लिए।

ईवीएम पर पूछे गए एक सवाल पर उन्होंने कहा, "ईवीएम के बारे में मैं आज भी कह रहा हूं कि उस पर किसी को भरोसा नहीं है। हाल में अमेरिका का चुनाव मतपत्रों से हुआ। उसमें भी कई दिनों तक मतगणना हुई। मत पत्रों से मतदान कराने पर लोगों का भरोसा बहाल होगा। हालांकि यह लड़ाई अभी नहीं लड़ी जा सकती।" उन्होंने कहा कि हम प्रशिक्षण शिविर चला रहे हैं। एसपी से जुड़े सारे लोग अपना वोट डाल देंगे तो बीजेपी अपने आप हार जाएगी। सत्ता में आने पर समाजवादी पार्टी ईवीएम की व्यवस्था खत्म करने के लिए अभियान चलाएगी।

समाजवादी पार्टी मुखिया ने कहा कि सदन के भीतर सरकार अपनी गरिमा खो चुकी है। सदन के भीतर सरकार की भाषा बदल गई है। इससे मालूम चलता है कि अब यह सरकार जाने वाली है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में ठोक दो की भाषा नहीं हो सकती। संस्थाओं को खत्म करने का काम इससे पहले कभी नहीं हुआ। सरकार को विपक्ष की कोई परवाह नहीं।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि बुंदेलखंड के किसानों के साथ बीजेपी सरकार ने धोखेबाजी की। झांसी, महोबा, ललितपुर के किसान लगातार आत्महत्या कर रहे हैं, लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही। सरकार ने कर्ज माफी का वादा किया था, वह भी पूरा नहीं किया। जनता सरकार से ऊब चुकी है। आने वाले चुनाव में वह इसे हटाने का काम करेगी।

अखिलेश ने हाथरस कांड में एसपी कार्यकर्ता के नाम आने को नकारते हुए इसे बीजेपी आईटी सेल की साजिश बताया। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस गांव में यह घटना हुई, वहां हमारी पार्टी का एक भी कार्यकर्ता नहीं है। सरकार सदन में गलत बयानी कर रही है। उसके आईटी सेल कार्यकर्ता एसपी को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia