BJP की लापरवाही, भ्रष्टाचार के कारण भलस्वा लैंडफिल पर लगी महीने की चौथी भीषण आग: 'आप'

भलस्वा लैंडफिल साइट पर लगी भीषण आग पर आम आदमी पार्टी ने बुधवार को आपराधिक लापरवाही बता एफआईआर की मांग की है। एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने कहा कि, इस महीने की चौथी बार भलस्वा लैंडफिल पर भीषण आग लगी, जिसको बुझाने की प्रक्रिया अभीतक जारी है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

भलस्वा लैंडफिल साइट पर लगी भीषण आग पर आम आदमी पार्टी ने बुधवार को आपराधिक लापरवाही बता एफआईआर की मांग की है। एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने कहा कि, इस महीने की चौथी बार भलस्वा लैंडफिल पर भीषण आग लगी, जिसको बुझाने की प्रक्रिया अभीतक जारी है। लोगों को सांस लेने में परेशानी हो रही है। लोगों में डर बना हुआ है कि यदि आग का एक छोटा गोला भी नीचे गिर गया तो पूरी कॉलोनी में आग लग जाएगी। यह सब बीजेपी की लापरवाही और भ्रष्टाचार का नतीजा है। पिछले एक साल में लगभग 14 बार आग लग चुकी है लेकिन बीजेपी कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। और जब उनसे कूड़े के पहाड़ों पर सवाल करो तो वह जवाब देने से मना कर देते हैं।

आम आदमी पार्टी ने यह मांग की है कि भाजपा के मेयर, पार्षद सभी के खिलाफ आपराधिक लापरवाही की एफआईआर होनी चाहिए और सभी के खिलाफ जेल की कार्रवाई होनी चाहिए। क्योंकि इनके कारण वहां के लोग बद से बदतर जिंदगी जीने को मजबूर हैं। स्थिति यह है कि कभी भी किसी की भी जान जा सकती है। लोगों को सांस लेने में इतनी समस्या हो रही कि वह लोग अपनी कॉलोनी छोड़कर भागने को मजबूर हैं।


आप के मुताबिक, बीजेपी की लापरवाही अपराध से कम नहीं है। कुछ दिनों पहले विधानसभा के माध्यम से हमने बीजेपी से पूछा कि आप कूड़े को साफ करने के लिए क्या कर रहे हैं? इसमें कितना वक्त लगेगा और इसकी प्रक्रिया क्या होगी? भाजपा ने कुछ भी बताने से मना कर दिया। इसका कारण बीजेपी का भ्रष्टाचार है। दिल्ली का एक-एक कूड़ा और एक-एक प्लास्टिक बीजेपी के भ्रष्टाचार का जीता-जागता सबूत है।


दरअसल लैंडफिल साइट पर लगी आग को अभी तक बुझाया जा रहा है, भीषण आग से निकल रहे जहरीले धुएं के कारण सांस लेने में मुश्किल हो रही है। हालांकि स्थानीय लोग लगातार यह मांग कर रहे हैं कि सरकार जल्द इसपर ठोस कदम उठाए।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia