श्रीलंका में फिर हुआ धमाका, अब पुगोडा शहर में मजिस्ट्रेट कोर्ट के पास ब्लास्ट

श्रीलंका में ईस्टर के मौके पर हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में 359 लोगों की मौत हो गई थी। धमाकों में 500 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे। इस मामले में अब तक 60 संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। हमले के बाद से श्रीलंका में हाई अलर्ट जारी है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

श्रीलंका में धमाकों का सिलसिला जारी है। एक और बम धमाका हुआ है। बताया जा रहा है कि श्रीलंका की राजधानी कोलंबों से 40 किलोमीटर दूर पुगोडा शहर में धमाके की आवाज सुनी गई है। पुलिस के अनुसार, पुगोडा में मजिस्ट्रेट कोर्ट के पीछे एक खाली जगह पर यह धमाका हुआ है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

इससे पहले ईस्टर के मौके पर हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में 359 लोगों की मौत हो गई थी। धमाकों में 500 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे। इस मामले में अब तक 60 संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। हमले के बाद से श्रीलंका में हाई अलर्ट जारी है।

श्रीलंका में हुए बम धमाकों के करीब 56 घंटे बाद इसकी जिम्मेदारी आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने ली थी। आईएस ने सिलसिलेवार बम धमाकों का वीडियो जारी किया था। इसमें हमलावर बगदादी की कसम खाकर न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च की दो मस्जिदों पर हुए हमलों का बदला लेने की बात करते हुए देखे गए थे। वीडियो में सभी हमलावर आईएस की ड्रेस में दिखे गए।

आईएस द्वारा हमले की जिम्मेदारी लेने से पहले श्रीलंका के रक्षा मंत्री ने भी कहा था कि शुरुआती जांच में पता चला है कि क्राइस्टचर्च का बदला लेने के लिए श्रीलंका के चर्चों और होटलों में धमाके किए गए। स्थानीय संगठन तौहीद जमात ने भी इन हमलों की जिम्मेदारी ली है। गौरतलब है कि बीते 15 मार्च को क्राइस्टचर्च की दो मस्जिदों में एक हमलावर ने गोलीबारी कर 50 लोगों को मौत के घाट उतार दिया था।

Published: 25 Apr 2019, 11:19 AM
लोकप्रिय