उपचुनाव में फायदा उठाने के लिए योगी सरकार ने 17 ओबीसी जातियों को एससी सूची में शामिल किया: मायावती

बीएसपी प्रमुख ने योगी सरकार की नीयत पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि 17 ओबीसी जातियों को एससी सूची में शामिल कर राज्य सरकार ने ओबीसी जातियों को धोखा देने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार को अपने फैसले पर विचार करना चाहिए।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश में 17 ओबीसी जातियों को एससी सूची में शामिल किए जाने को लेकर बीएसपी प्रमुख मायावती ने योगी सरकार पर निशाना साधा है। सोमवार को मीडिया से बात करते हुए मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश की सरकार उपचुनाव में फायदा उठाने के लिए इस तरह के हथकंडे अपना रही है। बीएसपी प्रमुख ने कहा कि अगर योगी सरकार को ऐसा करना ही था तो पहले एससी का कोटा बढ़ाया जाना चाहिए था, जिससे कि कोटे में शामिल 17 नई ओबीसी जातियों को इसका फायदा मिलता। मायावती ने राज्य सरकार के इस कदम को असंवैधानिक करार दिया।

बीएसपी प्रमुख ने योगी सरकार की नीयत पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि राज्य सरकार ओबीसी की जातियों को धोखा देने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार को अपने फैसले पर विचार करना चाहिए। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने राज्य की 17 अति पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल करने के लिए शासनादेश जारी किया था।


वहीं, योगी सरकार के इस फैसले पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और राज्यसभा सांसद विशंभर प्रसाद निषाद ने कहा कि यूपी की बीजेपी सरकार 17 अति पिछड़ी जातियों को गुमराह करने करने के लिए इस तरह का फैसला लिया है। उन्होंने यह भी कहा कि विधानसभा उपचुनावों को देखते हुए झूठी वाहवाही लूटने का योगी सरकार नाटक कर रही है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia