बुलंदशहर हिंसा: आरोपी प्रशांत नट के घर से मिला शहीद इंस्पेक्टर सुबोध का मोबाइल, परिजनों ने पुलिस पर लगाए आरोप

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में हिंसा और इंस्पेक्टर सुंबोध कुमार की हत्या के मामले की जांच कर रही पुलिस टीम को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने आरोपी प्रशांत नट के घर से शहीद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार का मोबाइल बरामद कर लिया है।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बुलंदशहर हिंसा मामले में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। इस हिंसा में शहीद हुए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह का मोबाइल फोन पुलिस ने बरामद कर लिया है। यह बरामदगी आरोपी प्रशांत नट के घर से हुई है।

पुलिस अधिकारी अतुल कुमार श्रीवास्तव ने कहा, ‘‘हमें सूचना मिली थी कि इंस्पेक्टर सुबोध कुमार का फोन प्रशांत नट के घर में हो सकता है और इसके लिए कोर्ट से हमने तलाशी वारंट लिया। तलाशी के दौरान इंस्पेक्टर का सीयूजी मोबाइल फोन नट के घर से बरामद हुआ। इसके अलावा कुछ और फोन भी मिले है। जिसे जांच के लिए फोरेंसिक प्रयोगशाला भेजा गया है।”

वहीं प्रशांत नट की पत्नी ने दावा किया है कि इंस्पेक्टर का मोबाइल पुलिस खुद अपने साथ लाई थी। उन्होंने उनके घर पर आकर दिखावटी तलाशी की और मोबाइल की बरामदगी दिखाई। उन्होंने आगे कहा कि 2 पुलिसकर्मी ने कमरे में दाखिल हुए और एक फोन निकालकर ड्रेसिंग टेबल पर रख दिया जब मैंने कहा कि यह फोन हमारा नहीं है तो उन्होंने चुप रहने को कहा।

बता दें कि स्याना के चिंगरावठी गांव में गोकशी को लेकर 3 दिसंबर 2018 को हिंसा भड़क गई थी। इस हिंसा में पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार और सुमित कुमार नाम के एक युवक की मौत हो गई थी। इस मामले में एसआई सुभाष चंद्र ने 27 लोगों को नामजद और 50-60 अज्ञात लोगों के खिलाफ स्याना कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। वहीं हिंसा के 25 दिन बाद पुलिस ने इंस्पेक्टर के हत्यारे प्रशांत नट को गिरफ्तार कर लिया था।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia