हैदाराबाद में फिर से बुर्का विवाद, परीक्षा देने से रोका गया, छात्राओं ने लगाए कई आरोप

छात्राओं का आरोप है कि प्रबंधन ने उनसे बुर्का हटाने को कहा और जब उन्होंने मना किया तो उन्होंने उन्हें परीक्षा में बैठने नहीं दिया। 30 मिनट के बाद बुर्का उतारने के बाद प्रबंधन ने उन्हें परीक्षा हॉल में जाने दिया।

हैदाराबाद में फिर से बुर्का विवाद, फोटो: IANS
हैदाराबाद में फिर से बुर्का विवाद, फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

हैदराबाद के एक कॉलेज ने बुर्का पहनी छात्राओं को प्रवेश नहीं दिया और उन्हें चेतावनी भी दी कि जब तक वे बुर्का उतार नहीं देतीं हैं, तब तक परीक्षा में शामिल नहीं हो सकतीं। घटना शुक्रवार को रंगा रेड्डी डिग्री कॉलेज फॉर वुमेन में हुई। छात्राओं का आरोप है कि प्रबंधन ने उनसे बुर्का हटाने को कहा और जब उन्होंने मना किया तो उन्होंने उन्हें परीक्षा में बैठने नहीं दिया। 30 मिनट के बाद बुर्का उतारने के बाद प्रबंधन ने उन्हें परीक्षा हॉल में जाने दिया।

घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए राज्य के गृह मंत्री मोहम्मद महमूद अली ने कहा, हो सकता है कि कोई प्रधानाध्यापक ऐसा कर रहे हों, लेकिन हमारी नीति पूरी तरह धर्मनिरपेक्ष है। लोग जो चाहें पहन सकते हैं, लेकिन अगर आप यूरोपीय पोशाक पहनते हैं, तो यह सही नहीं होगा, हमें अच्छे कपड़े पहनने चाहिए।

उन्होंने यह भी कहा कि महिलाओं को जितना हो सके ढक कर रहना चाहिए और छोटे कपड़े नहीं पहनने चाहिए। उन्होंने कहा, कहीं नहीं लिखा है कि बुर्का नहीं पहना जा सकता। हम कार्रवाई करेंगे।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;