CAA: माइक्रोसॉफ्ट के CEO सत्य नडेला बोले- देश में जो हो रहा है वह दुखद, रामचंद्र गुहा ने बयान का किया स्वागत

सीएए के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्य नडेला ने बड़ा बयान दिया है। सत्य नडेला ने एक कार्यक्रम में कहा कि मुझे लगता है कि जो हो रहा है वह दुखद है, यह बहुत बुरा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

नागरिकता कानून के खिलाफ पूरे देश भर में विरोध प्रदर्शन जारी है। वहीं माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला ने भी इस पर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि देश के मौजूदा हालात चिंता करने वाली है। नडेला ने एक कार्यक्रम में कहा, “मुझे लगता है जो हो रहा हैं वो दुखद है। मैं एक ऐसे बांग्लादेशी अप्रवासी को देखना चाहूंगा जो भारत आता है और अगला इंफोसिस का सीईओ बनता है।”

बाद में एक और बयान में सत्या नडेला ने कहा, “मुझे उस जगह पर बहुत गर्व है, जहां मुझे अपनी सांस्कृतिक विरासत मिलती है और मैं एक शहर, हैदराबाद में पला-बढ़ा हूं। मुझे हमेशा लगा कि यह बड़ा होने के लिए एक शानदार जगह है। हमने साथ मिलकर ईद, क्रिसमस, दिवाली- तीनों त्यौहार मनाए, जो हमारे लिए बड़े हैं।”

नडेला की ओर से माइक्रोसॉफ्ट इंडिया द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि हर देश को अपनी सीमाओं को पारिभाषित करने, राष्ट्रीय सुरक्षा सुनिश्चित करने और आव्रजन नीति निर्धारित करने का अधिकार है। लोकतंत्रों में यह सब जनता और सरकार के बीच बहस से पारिभाषित होता है।

वहीं इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने भी सत्य नडेला के इस बयान का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि मैं खुश हूं कि सत्य नडेला ने वो कहा जो वो महसूस करते थे। यह बुद्धिमत्तापूर्ण बात है। रामचंद्र गुहा ने सीएए को भारत के संविधान के खिलाफ बताया है। उन्होंने यह भी कहा है कि आईटी इंडस्ट्री के अन्य लोग भी यह कहने का साहस दिखाएं।

बता दें कि नागरिकता कानून 2019, 10 जनवरी से पूरे देश में लागू हो गया है। मोदी सरकार ने इसे लेकर अधिसूचना भी जारी कर दी है। लेकिन इस कानून के खिलाफ देश के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन जारी है। इस कानून को लेकर देश के कई इलाकों में हिंसा की घटनाएं भी सामने आ चुकी हैं।

Published: 14 Jan 2020, 10:01 AM
लोकप्रिय