हैरान करने वाली खबर! देवी को खुश करने के लिए किसी ने काटी जीभ तो किसी ने की खुद की बलि देने की कोशिश

एसएचओ जय श्याम शुक्ला ने कहा कि आत्माराम नवरात्रि के अंतिम दिन मंदिर पहुंचा और अपनी जीभ काटकर देवी को चढ़ा दिया। जीभ काटने की वजह से बहुत ज्यादा खून बहने लगा और उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया और पुलिस ने कहा कि उसकी हालत स्थिर है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

विनय कुमार

उत्तर प्रदेश में बांदा जिले के बबेरू क्षेत्र के भाटी गांव में चौंका देने वाली घटना सामने आई है, जहां एक 22 वर्षीय युवक ने अपनी जीभ काटकर एक मंदिर में देवी को अर्पित कर दिया। बबेरू के एसएचओ जय श्याम शुक्ला ने कहा,"आत्माराम नवरात्रि के अंतिम दिन मंदिर पहुंचा और अपनी जीभ काटकर देवी को चढ़ा दिया।"

जीभ काटने की वजह से बहुत ज्यादा खून बहने लगा और उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया और पुलिस ने कहा कि उसकी हालत स्थिर है। आत्माराम के पिता के अनुसार, उनका बेटा मानसिक रूप से अस्थिर है। वह नवरात्रि में व्रत रखता है और कथित रूप से इस कृत्य को करने के लिए उसे गुमराह किया गया।


इस बीच, एक अन्य घटना में, एक 49 वर्षीय व्यक्ति ने हमीरपुर जिले के कुरारा इलाके में एक शिव मंदिर में बलि की रस्म के तहत खुद को मारने की कोशिश की। रुक्मणी मिश्रा ने शनिवार रात कोटेश्वर मंदिर में चाकू से अपना गला काटने की कोशिश की। वह गंभीर रूप से घायल हो गया और उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी हालत स्थिर बताई गई। पुलिस अधीक्षक (एसपी) ने कहा कि यह अंधविश्वास का मामला मालूम पड़ता है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia