समाजवादी पार्टी पर भारी भीड़ जुटाने के आरोप में केस दर्ज, आचार संहिता, कोविड प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने का आरोप

बीजेपी सरकार के पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, धर्म सिंह सैनी और अन्य बीजेपी विधायकों के समाजवादी पार्टी में शामिल होने के बाद लखनऊ प्रशासन की ओर से समाजवादी पार्टी पर यह कार्रवाई की गई है। सपा ने इस पर आपत्ति जताते हुए सवाल उठाया है।

फोटोः स्क्रीनग्रैब
फोटोः स्क्रीनग्रैब
user

नवजीवन डेस्क

यूपी चुनाव से ठीक पहले समाजवादी पार्टी के खिलाफ वर्चुअल इवेंट में भारी भीड़ जुटाने के आरोप में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का केस दर्ज हो गया है। दरअसल आज बीजेपी छोड़कर आए कई मंत्रियों, विधायकों को सपा कार्यालय में पार्टी की सदस्यता दिलाई गई, जिसमे भारी भीड़ उमड़ पड़ी थी।

इस मामले में राजधानी लखनऊ के गौतम पल्ली पुलिस थाने में समाजवादी पार्टी (सपा) के खिलाफ आदर्श आचार संहिता और कोविड प्रोटोकॉल के उल्लंघन को लेकर प्राथमिकी दर्ज की गई है। बीजेपी के पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, धर्म सिंह सैनी और अन्य विधायकों के पार्टी में शामिल होने के लिए शुक्रवार दोपहर सपा कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में भारी भीड़ जमा होने के बाद यह कार्रवाई की गई है।


लखनऊ के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने बताया कि समाजवादी पार्टी की वर्चुअल रैली बिना पूर्व अनुमति के हुई। उन्होंने कहा, सूचना मिलने पर पुलिस टीम को सपा कार्यालय भेजा गया था। उनकी रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि राज्य की राजधानी में धारा 144 लागू है।

वहीं, समाजवादी पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई के प्रमुख नरेश उत्तम पटेल ने कहा कि यह हमारे पार्टी कार्यालय के अंदर एक वर्चुअल इवेंट था। हमने किसी को नहीं बुलाया, लेकिन लोग आए। सपा नेता ने यह भी कहा कि वे कोविड प्रोटोकॉल का पालन कर रहे थे। उन्होंने आगे कहा कि बीजेपी के मंत्रियों के दरवाजे पर और बाजारों में भी भीड़ है, लेकिन उन्हें सिर्फ हमसे दिक्कत है।


भारत के चुनाव आयोग (ईसीआई) ने 8 जनवरी को देश भर में कोरोना वायरस मामलों में भारी वृद्धि के मद्देनजर पांचों चुनावी राज्यों में शारीरिक तौर पर (फिजिकल) की जाने वाली रैलियों, सभाओं, पद यात्राओं पर 15 जनवरी तक प्रतिबंध लगाने की घोषणा की थी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia