CBI ने चारा घोटाले की जांच में लगे एसपी रैंक के 2 अफसरों का किया तबादला, कोर्ट ने पहले दो बार लगाई थी रोक

इससे पहले दोनों अधिकारियों का दो बार तबादला हुआ था लेकिन झारखंड हाईकोर्ट और फिर सुप्रीम कोर्ट ने इसे रद्द कर दिया था। दरअसल चारा घोटाला सामने आने के बाद पहले जांच प्रभावित न हो इसलिए इन अधिकारियों के तबादले पर रोक लगा दी थी।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने चारा घोटाला से जुड़े मामलों की जांच कर रहे दो एसपी रैंक के अधिकारियों का तबादला कर दिया है। लंबे समय से रांची में पदस्थापित केंद्रीय जांच एजेंसी के अधिकारी बी.के. सिंह और दशरथ मुर्मू अब क्रमश: पटना और कोलकाता में योगदान देंगे। इनमें से एक अधिकारी लालू प्रसाद यादव से जुड़े मामले में जांच अधिकारी थे।

ये दोनों अधिकारी चारा घोटाला मामलों में क्रमश: केस संख्या 47ए/1996 और 48ए/1996 के जांच अधिकारी थे। फिलहाल दोनों मामले रांची सिविल कोर्ट में चल रहे हैं। सीबीआई अधिकारी बी.के. सिंह 47ए/1996 के जांच अधिकारी भी थे, जो कि आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव से जुड़ा था।


इससे पहले दोनों अधिकारियों का दो बार तबादला हुआ था लेकिन झारखंड हाईकोर्ट और फिर सुप्रीम कोर्ट ने इसे रद्द कर दिया था। दरअसल चारा घोटाला सामने आने के बाद पहले रांची हाईकोर्ट और फिर सुप्रीम कोर्ट ने इन अधिकारियों के तबादले पर रोक लगा दी थी ताकि जांच प्रभावित न हो। घोटाले की जांच में लंबा समय लगने के कारण घोटाले से जुड़े कई अधिकारियों ने रांची में लंबी सेवा दी है।

शुरूआत में चारा घोटाला के 53 मामलों की सुनवाई रांची हाईकोर्ट और 11 मामलों की पटना हाईकोर्ट में सुनवाई शुरू हुई। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद पर 6 मामलों में आरोप लगे थे और वह फिलहाल इनमें जमानत पर हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 31 Aug 2021, 4:05 PM