आज जारी नहीं होगा सीबीएसई 10वीं क्लास का रिजल्ट, जानें 12वीं और 10वीं परीक्षा परिणामों पर CBSE ने क्या कहा?

सीबीएसई को 31 जुलाई तक 12वीं की बोर्ड कक्षाओं का भी रिजल्ट जारी करना है। यदि 12वीं के बोर्ड रिजल्ट में भी विलंब हुआ तो इसके चलते विश्वविद्यालयों के दाखिले में और अधिक देरी हो सकती है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

सीबीएसई बोर्ड को अपने तय कार्यक्रम के मुताबिक 10वीं बोर्ड का रिजल्ट 20 जुलाई तक घोषित करना था। हालांकि अब सीबीएसई बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि दसवीं का रिजल्ट घोषित करने में अभी कुछ और दिन का समय लगेगा। सीबीएसई को 31 जुलाई तक 12वीं की बोर्ड कक्षाओं का भी रिजल्ट जारी करना है। यदि 12वीं के बोर्ड रिजल्ट में भी विलंब हुआ तो इसके चलते विश्वविद्यालयों के दाखिले में और अधिक देरी हो सकती है।

देश के विभिन्न विश्वविद्यालयों में प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए नया बैच 1 अक्टूबर 2021 से शुरू हो जाएगा। यूजीसी के सचिव रजनीश जैन ने एक नोटिस जारी करते हुए सभी विश्वविद्यालयों, कॉलेजों और शैक्षणिक संस्थानों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि 12 वीं सीबीएसई बोर्ड और अन्य राज्य बोडरें के परिणाम घोषित होने के बाद ही नए बैच के लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू की जाए।

गौरतलब है कि दिल्ली विश्वविद्यालय ने भी अपने कालेजों में दाखिले की तारीख और प्रक्रिया का ऐलान कर दिया है। अंडर-ग्रेजुएट प्रोग्राम के लिए 2 अगस्त से 31 अगस्त तक आवेदन फार्म भरा जा सकेगा।


सीबीएसई ने 12वीं का रिजल्ट 31 जुलाई तक घोषित करने का ऐलान किया है। इसी को देखते हुए दिल्ली विश्वविद्यालय ने अंडरग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए 2 अगस्त की तारीख घोषित की है।

दिल्ली विश्वविद्यालय में स्नातकोत्तर कार्यक्रम के लिए 26 जुलाई से 21 अगस्त, एमफिल व पीएचडी के लिए भी 26 जुलाई से 21 अगस्त और विश्वविद्यालय की प्रवेश शाखा ने शैक्षणिक वर्ष 2021-22 में दाखिला शुरू करने की यह घोषणा की है।

10वीं बोर्ड का रिजल्ट पर सीबीएसई परीक्षा नियंत्रक डॉ. संयम भारद्वाज ने कहा कि बोर्ड, स्कूलों के समन्वय में, अभी भी सावधानीपूर्वक डेटा संकलित कर रहा है ताकि छात्रों के लिए निष्पक्ष और पूर्ण परिणाम सुनिश्चित किया जा सके।

डॉ. संयम भारद्वाज ने कहा कि सीबीएसई 20 जुलाई को कक्षा 10 के परिणाम घोषित नहीं करने जा रहा है। बोर्ड, स्कूलों के साथ, डेटा संकलित करने के लिए दिन-रात काम कर रहा है।

दिल्ली विश्वविद्यालय में इस साल कुल 13 कोर्सेस में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम आयोजित किया जाएगा। इस साल से चार नए कोर्सेस में भी डीयू एंट्रेंस टेस्ट के जरिए एडमिशन दिया जाएगा। इन चार कोर्सेस में बैचलर इन फिजियोथेरेपी, बैचलर इन ऑक्यूपेशनल थेरेपी, बैचलर ऑफ प्रोस्थेटिक्स एंड ऑर्थोटिक्स और मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी शामिल हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia