CBSE 12वीं के शेष 65 हजार छात्रों का रिजल्ट भी घोषित, अब प्राईवेट फार्म भरने वाले छात्रों की होगी परीक्षा

सीबीएसई ने 12वीं बोर्ड के 65 हजार से अधिक छात्रों का परिणाम घोषित कर दिया है। यह वे छात्र हैं जिनका रिजल्ट 30 जुलाई को घोषित नहीं किया जा सका था। तब सीबीएसई कक्षा 12वीं के कुल 65,184 छात्रों का रिजल्ट घोषित नहीं कर सकी थी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

सीबीएसई ने 12वीं बोर्ड के 65 हजार से अधिक छात्रों का परिणाम घोषित कर दिया है। यह वे छात्र हैं जिनका रिजल्ट 30 जुलाई को घोषित नहीं किया जा सका था। तब सीबीएसई कक्षा 12वीं के कुल 65,184 छात्रों का रिजल्ट घोषित नहीं कर सकी थी। देश के अलग अलग राज्यों के यह सभी छात्र अपना रिजल्ट सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं। सीबीएसई ने बीते शुक्रवार को 12वीं बोर्ड के नतीजे घोषित किए थे। सीबीएसई द्वारा घोषित किए गए 12वीं के रिजल्ट में कुल 99.37 फीसदी छात्र पास हुए हैं। इसमें जहां 99.13 फीसदी लड़के और 99.67 प्रतिशत लड़कियां पास हुईं। वहीं ट्रांसजेंडर छात्रों का रिजल्ट 100 फीसदी रहा है।

हालांकि तब विभिन्न स्कूलों के 65184 छात्र ऐसे भी रहे जिनका रिजल्ट समय पर तैयार नहीं किया जा सका। दरअसल कई स्कूल तय समय सीमा में 12वीं के छात्रों से जुड़ी जानकारी जैसे रोल नंबर, 10वीं कक्षा में प्राप्त हुए अंक, प्रोजेक्ट व असाइंमेंट आदि कि जानकारी सीबीएसई के पोर्टल पर अपलोड नहीं कर सके थे। सीबीएसई ने ऐसे छात्रों का रिजल्ट 5 अगस्त को जारी करने की घोषणा की थी।

वहीं छात्रों का एक बड़ा वर्ग ऐसा भी है जिसे 12वीं के बोर्ड रिजल्ट के लिए अभी और इंतजार करना होगा। सीबीएसई ने आधिकारिक जानकारी देते हुए कहा कि 16 अगस्त से ऐसे 60 हजार से अधिक ऐसे छात्रों को ऑफलाइन सीबीएसई 12वीं बोर्ड परीक्षा में शामिल होना होगा।


सीबीएसई के मुताबिक ये सभी नॉन रेगुलर छात्र हैं, जिन्होंने 12वीं बोर्ड का प्राईवेट फॉर्म भरा है। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक ऐसे 60,443 छात्रों की परीक्षाएं 16 अगस्त से 15 सितंबर के बीच आयोजित की जाएगी। शिक्षा मंत्रालय इन छात्रों की ऑफलाइन परीक्षा लेने के लिए सीबीएसई के साथ योजना बना रहा है।

गौरतलब है कि सीबीएसई बोर्ड ने कुल 13,69,745 रेगुलर छात्रों में से शुक्रवार को 13,04,561 उम्मीदवारों के परिणाम घोषित किए थे। शेष 65,184 छात्रों का परीक्षा परिणाम प्रक्रियाधीन थे, जिनकी घोषणा अब की जा चुकी है।

बोर्ड की तरफ से जारी ओवर आल रिजल्ट के मुताबिक साल 2021 में 12वीं के कुल 6149 स्टूडेंट्स को कंपार्टमेंट कैंटेगरी में रखा गया है। ट्रांसजेंडर छात्रों का रिजल्ट 100 फीसदी रहने के कारण इस बार कोई भी ट्रांसजेंडर छात्र न तो अनुत्तीर्ण छात्रों की श्रेणी में रखा गया न ही कंपार्टमेंट कैंटेगरी में ट्रांसजेंडर छात्रों का नाम है।

इस वर्ष कोरोना संक्रमण को देखते हुए बोर्ड परीक्षाएं रद्द कर दी गई थी। सीबीएसई बोर्ड द्वारा तय किए गए फामूर्ले के मुताबिक 12वीं कक्षा के छात्रों का रिजल्ट, दसवीं में हासिल किए गए अंकों, 11वीं एवं 12वीं कक्षा के प्रोजेक्टव असाइनमेंट आदि के आधार पर तय किया गया है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */