अगले साल से नए पैटर्न पर ही होंगी 10वीं-12वीं की सीबीएसई बोर्ड की परीक्षाएं, क्या हुआ है बदलाव पढ़ें यहां

सीबीएसई बोर्ड की दसवीं और 12वीं कक्षा की परीक्षाएं अगले साल यानी 2020 से नए पैटर्न पर होंगी। इस बारे में जल्द ही सैंपल पेपर सीबीएसई उपलब्ध कराएगा। ये सारी जानकारी सीबीएसई ने अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल से दी है।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

अगले साल यानी 2020 में होने वाली सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं बदले हुए पैटर्न पर ही होंगी। सीबीएसई का मानना है कि इससे छात्रों को आसानी होगी और उनका ज्ञान भी बढ़ेगा। सीबीएसई का कहना है कि इससे छात्रों में रटने की आदत भी कम होगी।

सीबीएसई ने अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल पर इस बारे में जानकारी शेयर की है।

अगले साल से नए पैटर्न पर ही होंगी 10वीं-12वीं की सीबीएसई बोर्ड की परीक्षाएं, क्या हुआ है बदलाव पढ़ें यहां

सीबीएसई के मुताबिक नया पैटर्न कुछ इस तरह होगा:

  • नए परीक्षा पैटर्न में प्रश्न पत्रों में विवरणात्मक यानी सब्जेक्टिव सवालों की संख्या कम होगी।
  • परीक्षा के दौरान छात्रों को इंटरनल च्वॉइस यानी सवालों में विकल्प ज्यादा मिलेंगे।
  • ऑब्जेक्टिव टाइप सवालों की संख्या बढ़ाई जाएगी।
  • सभी विषयों में 20 अंकों का प्रैक्टिकल और आंतरिक मूल्यांकन भी होगा।
  • 10वीं के हिंदी, अंग्रेजी, साइंस, मैथ्स, होम साइंस और संस्कृत में विवरणात्मक सवालों की संख्या कम की जाएगी।
  • 12वीं में मैथ्स, फिजिक्स, केमिस्ट्री, एकाउंटेंसी, बिजनेस स्टडी, इकोनॉमिक्स, साइकोलॉजी, सोशियोलॉजी, पॉलिटिकल साइंस में विवरणात्मक सवालों की संख्या कम होगी।
  • आंतरिक मूल्यांकन को ज्यादा महत्व दिया जाएगा।

सीबीएसई बोर्ड ने कहा है कि जल्द ही इस नए पैटर्न के आधार पर सैंपल पेपर तैयार करने की तैयारी चल रही है। इसे बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड कर दिया जाएगा। छात्र इन सैंपल पेपर्स को सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड कर सकेंगे।

बोर्ड का मानना है कि सैंपल पेपर से छात्रों को बेहतर तैयारी करने में मदद मिलेगी और परीक्षार्थी विषय के फॉर्मेट को समझते हुए अच्छे अंक हासिल कर सकेंगे। सैंपल पेपर पहले से उपलब्ध होने से विद्यार्थियों को प्रश्न पत्र का नया पैटर्न, और उसे हल करने के तरीके का अनुमान लग जाएगा।

लोकप्रिय