गुजरात में 2002 में एंटी-मुस्लिम दंगे किसकी सरकार में हुए थे? 12वीं में पूछे गए इस सवाल पर सीबीएसई को देनी पड़ी सफाई

सीबीएसई की 12वीं कक्षा के पेपर में गुजरात दंगों पर पूछे गए सवाल को सीबीएसई ने गलती बताते हुए कहा है कि ऐसे सवाल प्रश्नपत्र में डालने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। सवाल 12वीं के सामाजिक विज्ञान के प्रश्नपत्र में पूछा गया था।

प्रतीकात्मक फोटो
प्रतीकात्मक फोटो
user

नवजीवन डेस्क

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी सीबीएसई ने एक बयान जारी कर कहा है कि 12वीं कक्षा के सामाजिक विज्ञान के प्रश्नपत्र में गुजरात दंगों पर पूछा गया सवाल एक गलती थी। सीबीएसई ने कहा कि यह अवांछित था और ऐसा सवाल पेपर में डालने वाले ऐसे गैरजिम्मेदार व्यक्ति पर कार्रवाई की जाएगी। सीबीएसई के मुताबिक सवाल पूछा गया था कि गुजरात में 2002 में मुस्लिम विरोधी हिंसा किसके शासनकाल में हुई थी।

सोशल मीडिया से
सोशल मीडिया से

सीबीएसई ने ट्वीट कर कहा कि, "आज हुई 12वीं कक्षा की सामाजिक विज्ञान के टर्म-1 की परीक्ष में पूछा गया सवाल अवांछित था और सीबीएसई द्वारा बाहरी विषय विशेषज्ञों के लिए तय नियमों के खिलाफ था। सीबीएसई इस गलती को स्वीकार करता है और इसके लिए जिम्मेदार व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।"mryr

सीबीएसई ने इसके बाद एक और ट्वीट किया। इसमें लिखा है कि, "पेपर बनाने वालों के लिए सीबीएसई के दिशानिर्देश स्पष्ट हैं कि उन्हें पेपर पूरी शैक्षणिक आधार पर रखना चाहिए और इसमें किसी भी ऐसे विषय या क्षेत्र के बारे में नहीं पूछा जाना चाहिए जिससे किसी की भी व्यक्ति की सामाजिक या राजनीतिक भावनाएं आहत होती हों।"


गौरतलब है कि आज हुए सोशियालॉजी के पेपर में प्रश्न संख्या 23 में पूछा गया था कि, "गुजरात में 2002 में हुई असाधारण और बड़े पैमाने पर मुस्लिम विरोधी हिंसा किसकी सरकार के शासन में हुई थी?" इसके जवाब के रूप में परीक्षार्थियों को चार विकल्प दिए गए थे, कांग्रेस, बीजेपी, डेमोक्रेटिक या रिपब्लिकन।

गौरतलब है कि सीबीएसई की 12वीं परीक्षाएं चल रही हैं और आज (बुधवार) मेजर सब्जेक्ट का पहला पेपर था।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia