सीबीएसई ने अभी तक जारी नहीं किया 10वीं-12वीं के लिए टर्म-1 परीक्षा का शिड्यूल, वायरल डेट शीट को बताया फर्जी

सीबीएसई ने अभी तक 10वीं और 12वीं परीक्षा के टर्म-1 का परीक्षा कार्यक्रम जारी नहीं किया है। बोर्ड ने कहा था कि 18 अक्टूबर को डेट शीट जारी होगी। लेकिन अभी तक इसका अता-पता नहीं है। इस बीच एक फर्जी डेट शीट वायरल हो रही है जिसे सीबीएसई ने फर्जी बताया है

फोटो : आईएएनएस
फोटो : आईएएनएस
user

आईएएनएस

सीबीएसई ने अभी तक 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा की डेट शीट जारी नहीं की है। इन परीक्षाओं को लेकर सोशल मीडिया पर एक फर्जी डेट शीट प्रसारित की जा रही हैं। सीबीएसई बोर्ड ने ऐसी फर्जी जानकारियों से सतर्क रहने की अपील की है। साथ ही कहा है कि केवल आधिकारिक वेबसाइट पर दी गई जानकारियों पर ही यकीन करें। सीबीएसई ने कहा था कि टर्म-1 की परीक्षा का कार्यक्रम 18 अक्टूबर को जारी होगा।

सीबीएसई कक्षा 10वीं और 12वीं के लाखों छात्रों के लिए इस साल नवंबर में बोर्ड परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी। सीबीएसई बोर्ड ने आधिकारिक जानकारी देते हुए कहा है इस बार बोर्ड परीक्षा बहुविकल्पीय प्रश्नों (एमसीक्यू) आधारित होगी। बोर्ड परीक्षा के पहले चरण में कुल पाठ्यक्रम का 50 प्रतिशत शामिल होगा। यह पहली बार हैजब बोर्ड परीक्षा बहुविकल्पीय प्रश्नों पर आधारित होगी।

सीबीएसई ने सोमवार को एक आधिकारिक जानकारी सांझा करते हुए कहा, सीबीएसई के संज्ञान में आया है कि दसवीं और बारहवीं कक्षा के छात्रों को भ्रमित करने के लिए नवंबर 2021 की आगामी टर्म 1 परीक्षा के लिए सोशल मीडिया पर एक फर्जी डेट शीट प्रसारित की जा रही है। सीबीएसई द्वारा यह स्पष्ट किया जाता है कि बोर्ड ने अभी तक इस संबंध में कोई आधिकारिक अधिसूचना जारी नहीं की है।


दूसरे चरण की बोर्ड परीक्षा अगले वर्ष मार्च-अप्रैल में होगी। परीक्षा परिणाम मार्च अप्रैल में होने वाली दूसरे चरण की परीक्षा के बाद जारी किया जाएगा। सीबीएसई बोर्ड 10वीं एवं 12वीं कक्षा का सिलेबस भी 50- 50 प्रतिशत के दो हिस्सों में बांट चुका है। इस बार बोर्ड परीक्षा के छात्रों को 20 मिनट का रीडिंग टाइम दिया जाएगा। पहले यह समय 15 मिनट का था। पहले चरण की बोर्ड परीक्षाओं में बहुविकल्पीय वस्तुनिष्ठ प्रश्न (एमसीक्यू) होंगे। पहले सत्र की बोर्ड परीक्षाएं नवंबर-दिसंबर, 2021 में आयोजित की जा रही हैं। इनकी अवधि 90 मिनट होगी।

वहीं सीबीएसई छात्रों के आंतरिक मूल्यांकन पर भी विशेष ध्यान दे रहा है। सीबीएसई के मुताबिक 10वीं कक्षा के 20 अंकों के आंतरिक मूल्यांकन को अलग अलग विभाजित किया गया। वहीं 12वीं कक्षा के 30 अंकों के आंतरिक मूल्यांकन दो भी हिस्सों में बांटा जा रहा है। सीबीएसई बोर्ड के मुताबिक 10वीं कक्षा का 20 अंक का इंटरनल असेसमेंट, 10-10 अंकों के दो चरण में विभाजित किया गया है। 12वीं कक्षा के लिए प्रैक्टिकल और इंटरनल असेसमेंट को 15-15 अंकों के दो चरण में विभाजित किया गया है। 12वीं कक्षा के लिए कुल 30 अंक का प्रैक्टिकल 15-15 अंकों के दो चरण में लिया जाएगा।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;