सेल शुरु होते ही अमेज़ॉन और फ्लिपकार्ट को मिला केंद्र सरकार का नोटिस, नहीं लिख रहे हैं उत्पादों पर 'कंट्री ऑफ ओरिजिन'

ई कॉमर्स कंपनियों फ्लिपकार्ट और अमेज़ॉन ने जिस दिन त्योहारी सीजन की सेल शुरु की है, उसी दिन केंद्र सरकार ने इन्हें नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। कंपनियों पर आरोप है कि नियमानुसार ये कंपनियां बेचे जाने वाले उत्पादों पर कंट्री ऑफ ओरिजिन नहीं लिख रही हैं।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

अमेज़ॉन और फ्लिपकार्ट को केंद्र सरकार ने नोटिस जारी किया है। इन दोनों ई-कॉमर्स कंपनियों पर आरोप है कि इनके द्वारा बेचे जा रहे कुछ खास उत्पादों पर यह नहीं लिखा है कि उत्पाद किस देश में बना है।

उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने इन दोनों कंपनियों को भेजे नोटिस में कहा है कि कंपनियों के विज्ञापन की जांच करने के बाद सामने आया है कि इनके द्वारा बेचे जाने वाले उत्पादों पर निर्माता देश का नाम नहीं लिखा है जो कि मंत्रालय के नियमों का खुला उल्लंघन है। सरकार ने इन कंपनियों को 15 दिन के अंदर नोटिस का जवाब देने को कहा है। साथ ही इन्हें जरूरी सूचनाएं मुहैया कराने को कहा है।

गौरतलब है कि सरकार ने हाल ही में सभी ई-कॉमर्स कंपनियों को उनके द्वारा बेचे जाने वाले उत्पादों पर उस देश का नाम लिखने को कहा है जहां वह उत्पाद बना है या बन कर आया है। इसके लिए कंपनियों को 30 सितंबर तक की मोहलत दी गई थी। इन नियमों को बनाने के पीछे माना गया था कि सरकार ने यह फैसला चीन के साथ जी सीमा तनाव के मद्देनजर लिया था।

कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स ने सरकार के इस फैसले का स्वागत किया था और वह लंबे अर्से से इस नियम की मांग कर रहा था।

कंफेडरेशन के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल इस नियम की प्रशंसा करते हुए कहा था कि सरकार को तुरंत इस बात की जांच करनी चाहिए की अमेजॉन और फ्लिपकार्ट ने त्योहारी सीज़न की सेल शुरु की है। उनका आरोप है कि दोनों कंपनियों द्वारा बेचे जाने वाले उत्पादों पर कंट्री ऑफ ओरिजिन यानी जिस देश में वह उत्पाद बना है उसका नाम नहीं लिखा है।

लोकप्रिय
next