छत्तीसगढ़ः प्रियंका गांधी ने BJP राज में हिंसा की दिलाई याद, फिर कांग्रेस सरकार आने पर जातीय गणना का किया वादा

प्रियंका गांधी ने पूर्ववर्ती बीजेपी सरकार की याद दिलाते हुए कहा कि निर्दोष आदिवासियों को जेल में डाल दिया जाता था और हर तरफ हिंसा, भय और उत्पीड़न का राज था। कांग्रेस की सरकार ने खूब मेहनत करके पांच साल के अंदर आपको उस हिंसा के जाल से बाहर निकाला है।

छत्तीसगढ़ से प्रियंका गांधी का वादा, कांग्रेस सरकार आने पर जातीय गणना कराएंगे
छत्तीसगढ़ से प्रियंका गांधी का वादा, कांग्रेस सरकार आने पर जातीय गणना कराएंगे
user

नवजीवन डेस्क

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव की हलचलों के बीच आज कांकेर पहुंची कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने 5 साल पहले के छत्तीसगढ़ का जिक्र करते हुए कहा कि जब बीजेपी का राज था तो यहां हिंसा का राज था और लोग यहां आने तक से डरते थे। राज्य में कांग्रेस की फिर से सरकार बनने पर बिहार की तरह जातीय जनगणना कराई जाएगी।

कांकेर में आयोजित नगरीय निकाय और पंचायती राज सम्मेलन में प्रियंका गांधी ने केंद्र की बीजेपी सरकार के साथ ही छत्तीसगढ़ की पूर्ववर्ती बीजेपी सरकार की नीतियों को देश और समाज विरोधी बताया। साथ ही कहा कि निर्दोष आदिवासियों को जेल में डाल दिया जाता था और हर तरफ हिंसा, भय और उत्पीड़न का राज था। कांग्रेस की सरकार ने खूब परिश्रम करके पांच साल के अंदर आपको उस हिंसा के जाल से बाहर निकाला है।

प्रियंका ने कहा कि आदिवासियों का भूपेश बघेल की सरकार पर इसलिए भरोसा है क्योंकि उन्होंने आदिवासियों, पिछड़ों और दलितों के लिए काम किया है। कांग्रेस की सरकार आपकी मजबूती के लिए फैसला लेती है और इसीलिए छत्तीसगढ़ की चर्चा पूरे देश में है और हर किसी की नजर इस तरफ है क्योंकि यहां तेजी से विकास हो रहा है और आपका मान-सम्मान देश-दुनिया में बढ़ा है। यहां हर क्षेत्र में विकास हो रहा है, किसान खुश हैं। दूसरे राज्यों का किसान परेशान है, दुखी है।


प्रियंका गांधी ने राज्य के लोगों से वादा किया कि कांग्रेस की राज्य में फिर से सरकार बनने पर बिहार की तरह यहां भी जातीय जनगणना कराई जाएगी। बीजेपी जनता के हित की बात करने पर मौन हो जाती है। बिहार के आंकड़े बताते हैं कि 84 फीसदी आबादी पिछड़ा, जनजातीय और जनजाति वर्ग की है। सवाल है कि क्या बड़े पदों पर 84 प्रतिशत लोग हैं। बीजेपी सिर्फ लोगों का ध्यान भटकाने पर अपना जोर लगाती है।

उन्होंने बीजेपी की सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि जहां बीजेपी की सरकारें हैं, वहां पंचायत के वित्तीय अधिकार कम किए जा रहे हैं। एक तरफ जहां कांग्रेस की सरकार है, हर वर्ग की मजबूती के लिए काम कर रही है तो दूसरी ओर बीजेपी की सरकार ने इसके उलट किया है। देश के प्रधानमंत्री ने देश की सारी संपत्ति अपने मित्र अरबपति को दे दिया, लाखों-करोड़ों रुपए के उनके कर्ज माफ कर दिए, जब किसानों के कर्ज माफ करने की बात होती है तो कहते हैं कि पैसा नहीं है।

प्रियंका ने कहा कि यहां छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार ने कर्ज माफ करने का काम 24 घंटे में किया, और उन्होंने क्या किया? प्रधानमंत्री अपने लिए दो हवाई जहाज खरीदते हैं, 8000 करोड रुपए का एक हवाई जहाज, 20 हजार करोड़ की नई संसद बना दी। जबकि, एक अच्छा खासा संसद हमारे देश में था। 27 हजार करोड़ का यशोभूमि हॉल बनाते हैं और जब कर्मचारियों की बात होती है, पेंशन की बात होती है तो कहते हैं पैसा नहीं है।


कांग्रेस महासचिव ने कहा कि अपनी आन-बान, शान बढ़ाने के लिए बड़ी-बड़ी इमारत को बनाने के लिए पैसा है अपने उद्योगपति दोस्तों का कर्ज माफ करने के लिए पैसा है, देश की संपत्ति को अपने उद्योगपति दोस्तों को सौंप सकते हैं, मगर पेंशन नहीं दे सकते हैं। वहीं छत्तीसगढ़ की सरकार पुरानी पेंशन दे रही है क्योंकि जब नियत सही होती है तो जनता के लिए अच्छा होता है वह सरकार करती है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */