चिदंबरम ने टीकों की लगातार कमी को लेकर नए स्वास्थ्य मंत्री को घेरा, कहा- यह भी पुराने वाले की राह पर

चिदंबरम ने कहा कि क्या टीके की कमी की शिकायत करने वाले सभी राज्यों के स्वास्थ्य मंत्री झूठ बोल रहे हैं? क्या खबरों से लोगों को इसलिए दूर किया जा रहा है, क्योंकि टीकों की डोज नहीं है? निष्कर्ष यह है कि केंद्र और राज्यों के बीच जनता को मूर्ख बनाया जा रहा है।

फोटोः ANI
फोटोः ANI
user

नवजीवन डेस्क

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने देश में वैक्सीन की कमी को लेकर गुरुवार को एक बार फिर केंद्र सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि इस मामले में नव नियुक्त स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया भी अपने पूर्ववर्ती डॉक्टर हर्षवर्धन के रास्ते पर चल रहे हैं।

चिदंबरम ने गुरुवार को एक बयान में कहा, "नए स्वास्थ्य मंत्री भी अपने पूर्ववर्ती की तरह उसी रास्ते पर चल रहे हैं। यह दुखद है।" उन्होंने कहा कि राज्य दर राज्य टीके की कमी की शिकायत कर रहे हैं। टीकाकरण केंद्रों पर टीके नहीं हैं, लिखे हुए बोर्ड लगे होते हैं। टीकों की खुराक खत्म होने के बाद कतारों में खड़े लोगों को घर लौटना पड़ रहा है।


चिदंबरम ने कहा, "क्या टीके की कमी की शिकायत करने वाले सभी राज्यों के स्वास्थ्य मंत्री झूठ बोल रहे हैं? क्या अखबार और टीवी की खबरों में लोगों को इसलिए दूर किया जा रहा है, क्योंकि वैक्सीन की कोई डोज नहीं है, फर्जी खबरें हैं? निष्कर्ष यह है कि केंद्र और राज्यों के बीच जनता को मूर्ख बनाया जा रहा है।"

पूर्व केंद्रीय मंत्री चिदंबरम नए स्वास्थ्य मंत्री के उस बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिसमें उन्होंने कहा था कि देश में टीकों की कोई कमी नहीं है। बता दें कि देश में कुल कोरोना टीकाकरण कवरेज 39 करोड़ के लैंडमार्क को पार कर गया है। पिछले 24 घंटों में देश भर में 34,97,058 लोगों को वैक्सीन दी गई है। हालांकि, टीकाकरण की यह रफ्तार काफी धीमी है। कई विशेषज्ञ इस रफ्तार पर सवाल उठा चुके हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia