बंगाल चुनाव के साथ ही रिटायर हो जाएंगे मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा, अपनी पारी को बताया बढ़िया

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने आज कहा कि ये मेरी आखिरी प्रेस कॉन्फ्रेंस है, क्योंकि अब मैं 30 अप्रैल को रिटायर होने जा रहा हूं। मैं 2019 के लोकसभा चुनाव के साथ 11 चुनाव करा चुका हूं। मुझे अपने चुनाव आयुक्तों और सहयोगियों से काफी सहयोग मिला।

फाइल फोटोः PIB
फाइल फोटोः PIB
user

नवजीवन डेस्क

देश के वर्तमान मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) सुनील अरोड़ा पांच राज्यों का विधानसभा चुनाव कराकर 30 अप्रैल को रिटायर हो जाएंगे। उन्होंने शुक्रवार को विज्ञान भवन में चुनाव तारीखों का ऐलान करते हुए इसे अपनी आखिरी प्रेस कांफ्रेंस करार दिया। सुनील अरोड़ा ने बतौर मुख्य चुनाव आयुक्त अपने कार्यकाल से खुद को संतुष्ट बताया। इस दौरान उन्होंने अपनी मां का लिखा एक शेर भी पढ़ा। उन्होंने अब तक 2019 के लोकसभा चुनाव सहित 11 प्रमुख इलेक्शन कराए हैं। उन्होंने कोरोना काल में बिहार जैसे बड़े राज्य में सफल चुनाव संचालन को ऐतिहासिक बताया।

शुक्रवार के दिल्ली के विज्ञान भवन में पश्चिम बंगाल, असम, केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी में चुनाव की तारीखों का ऐलान के लिए आयोजित प्रेस कांफ्रेंस के दौरान मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा, "ये मेरी आखिरी प्रेस कॉन्फ्रेंस है, क्योंकि अब मैं 30 अप्रैल को रिटायर होने जा रहा हूं। मैं 11 चुनाव करा चुका हूं, 2019 का लोकसभा चुनाव भी कराया। आप कह सकते हैं कि मेरी इनिंग अच्छी रही। मुझे अपने चुनाव आयुक्तों और सहयोगियों से काफी सहयोग मिला।

इस दौरान अपनी मां को याद करते हुए अरोड़ा ने कहा, “मैं अपनी मां की लिखी लाइनें पढ़ना चाहता हूं, जो उन्होंने 1979 में लिखी थीं- 'किसी से हमसुखन होता नहीं महफिल में परवाना, उन्हें बातें नहीं आती जो अपना काम करते हैं'। 1989 में कैंसर के कारण मेरी मां का निधन हो गया था।" मां की लिखी लाइनों के जरिए सुनील अरोड़ा ने संदेश दिया कि वह बोलने में नहीं, बल्कि काम करने में यकीन रखते हैं।

पंजाब के होशियारपुर में 13 अप्रैल 1956 को जन्मे सुनील अरोड़ा 1980 बैच के राजस्थान कैडर के रिटायर्ड आईएएस अफसर हैं। पंजाब यूनिवर्सिटी से अंग्रेजी से एमए करने के बाद सिविल सर्विसेज में आने वाले सुनील अरोड़ा राजस्थान में लंबी प्रशासनिक पारी खेल चुके हैं। वह राजस्थान के मुख्यमंत्री के सचिव और प्रमुख सचिव भी रह चुके हैं। 29 अगस्त 2014 से वह केंद्र की प्रतिनियुक्ति पर हैं। वह सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, स्किल डेवलपमेंट सहित केंद्र सरकार के प्रमुख मंत्रालयों में कार्य कर चुके हैं।

सुनील अरोड़ा एक सितंबर 2017 को चुनाव आयोग में इलेक्शन कमिश्नर (चुनाव आयुक्त) बने और फिर दो दिसंबर 2018 को उन्होंने देश के मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) की जिम्मेदारी संभाली। अब 30 अप्रैल 2021 को मुख्य चुनाव आयुक्त पद से रिटायर होंगे। दो दिसंबर 2018 को मुख्य चुनाव आयुक्त पद पर उनकी ढाई वर्ष के लिए नियुक्ति हुई थी।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;