रोहिणी कोर्ट में फायरिंग पर चीफ जस्टिस रमना गंभीर, कोर्ट परिसरों की सुरक्षा पर जताई चिंता

शीर्ष अदालत पहले से ही कोर्ट परिसरों और न्यायिक कर्मियों की सुरक्षा के संबंध में एक मामले की सुनवाई कर रही है। सूत्र ने कहा कि रोहिणी कोर्ट परिसर में शुक्रवार को हुई हिंसा के मद्देनजर मामले को अगले सप्ताह प्राथमिकता दी जा सकती है।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

भारत के मुख्य न्यायाधीश एन.वी. रमना ने शुक्रवार को रोहिणी कोर्ट परिसर के एक कोर्ट रूम के अंदर हुई गोलीबारी पर गहरी चिंता व्यक्त की है, जिसमें तीन गैंगस्टर मारे गए। इस घटना में कई लोग घायल भी हुए और इसने अदालत परिसरों की सुरक्षा व्यवस्था में खामियों पर गंभीर सवाल खड़े किए हैं।

सीजेआई एन वी रमना ने इस घटना के संबंध में दिल्ली उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश डीएन पाटिल से बात की और उन्हें यह सुनिश्चित करने के लिए पुलिस और बार दोनों से बात करने की सलाह दी कि अदालत का कामकाज प्रभावित ना हो। शीर्ष अदालत पहले से ही कोर्ट परिसरों और न्यायिक कर्मियों की सुरक्षा के संबंध में एक मामले की सुनवाई कर रही है। सूत्र ने कहा कि रोहिणी कोर्ट परिसर में शुक्रवार को हुई हिंसा के मद्देनजर मामले को अगले सप्ताह प्राथमिकता दी जा सकती है।


घटना के मीडिया में आए वीडियो में रोहिणी कोर्ट के अंदर गोलियों की आवाज सुनी गई। पुलिसकर्मियों को गैंगस्टरों पर फायरिंग करते देखा गया, जबकि वकील अदालत परिसर में इमारत के अंदर सुरक्षित भागते नजर आए। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के अनुसार, वकीलों के वेश में बंदूकधारियों ने अदालत के अंदर मौजूद थे, जिन्होंने पेशी के लिए आए गैंगस्टर जितेंद्र गोगी को तीन गोली मार दी, जिससे उसकी मौत हो गई। गैंगस्टर को बचा रहे विशेष पुलिस कर्मियों ने जवाबी फायरिंग की, जिसमें दोनों हमलावर मौके पर ही मारे गए।

रोहिणी कोर्ट परिसर में शूटर्स की गोली का शिकार हुआ गैंगस्टर जितेंद्र मान उर्फ गोगी अपहरण और हत्याओं के कई मामलों में मोस्ट वांटेड गैंगस्टर था। गोगी को अप्रैल में स्पेशल सेल द्वारा गिरफ्तार किया गया था। वह हरियाणा के एक गायक की हत्या में शामिल था, जिसे 2017 में पानीपत में हमलावरों ने मार डाला था। गोगी पर हरियाणा में 2.5 लाख रुपये का इनाम रखा गया था।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia