बिहार: पार्षद ने दी राम विलास पासवान को जान से मारने की धमकी, चिराग ने नीतीश को लिखा पत्र

लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखकर सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने लिखा है कि एक जिले के वार्ड पार्षद ने उनके पिता को जान से मारने की धमकी दी है।

फाइल फोटो : आईएएनएस
फाइल फोटो : आईएएनएस
user

आईएएनएस

लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और जमुई से सांसद चिराग पासवान ने उनको और उनके पिता व केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान को जान से मारने की धमकी वाले वीडियो के संबंध में गुरुवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को एक पत्र लिखा। पत्र में घटना के कारणों का जिक्र करते हुए लोजपा अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री का ध्यान प्रदेश में राशन वितरण में गड़बड़ी की ओर दिलाया है। चिराग पासवान ने ईमेल के जरिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भेजे पत्र में लिखा है, "27 जुलाई 2020 की रात का एक वाकया आपके संज्ञान में लाना चाहता हूं जहां शेखपुर जिला के वार्ड पार्षद संजय यादव ने मुझे और मेरे पिता व भारत सरकार में मंत्री राम विलास पासवान के बारे में अपशब्द कहे और जान से मारने की धमकी दी।"

एलजेपी अध्यक्ष ने अपने पत्र में आगे लिखा, "यह वीडियो सोशल मीडिया पर भी खूब वायरल हो रहा है। इस वीडियो को जब मैंने देखा तो दुख हुआ कि राशन कार्ड न बनने और राशन नहीं मिलने की वजह से संजय यादव परेशान थे और अपनी परेशानी बयां कर रहे थे।" ध्यान रहे कि चिराग पासवान बिहार में शिक्षा और कानून-व्यवस्था की खामियां गिनाते हुए नीतीश सरकार की आलोचना करते रहे हैं और अब उन्होंने राशन वितरण के मसले पर मुख्यमंत्री को घेरा है।

चिराग पासवान ने अपने पत्र में कहा है, "राशन कार्ड बनाना या केन्द्र द्वारा प्राप्त राशन का वितरण लाभार्थियों के बीच करने की पूरी जिम्मेदारी राज्य सरकार की है, लेकिन इस वीडियो से मालूम होता है कि लाभर्थियों तक शायद केन्द्र सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचाने में राज्य की ओर से कमी रह गई है जिस कारण लाभर्थियों में असंतोष एवं आक्रोश इस हद तक बढ़ गया कि जान से मारने तक की धमकी तक दे रहे हैं।"

उन्होंने मुख्यमंत्री से इस विषय को गंभीरता से लेते हुए राशन वितरण और कार्ड बनाने में हो रही गड़बड़ी की जांच करवाने की मांग की है। चिराग पासवान ने कहा कि ताकि मामले की जांच हो ताकि संजय यादव जैसे अनेक लाभार्थी जिनको अब तक केन्द्र सरकार की योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा है उनकी समस्या का समाधान हो।

लोकप्रिय
next