Chopper Crash: रक्षा मंत्री ने संसद में बताया पूरा घटनाक्रम, कहा- 11.48 पर हेलीकॉप्टर ने भरी उड़ान, 12.08 पर कटा संपर्क

राजनाथ सिंह ने सदन को बताया कि वायुसेना ने तमिलनाडु में हेलीकॉप्टर दुर्घटना की जांच के आदेश दिए हैं। रक्षा मंत्री ने कहा कि जांच का नेतृत्व एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह करेंगे। उन्होंने कहा कि वायुसेना का जांच दल बुधवार को वेलिंगटन पहुंचा था और मामले की जांच शुरू कर दी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

तमिलनाडु में कुन्नूर के पास सैन्य हेलीकॉप्टर हादसे पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लोकसभा में बयान दिया। उन्होंने बताया कि हादसे में किन अधिकारियों की जान गई है। उन्होंने हादसे की डिटेल जानकारी दी। साथ ही इस मामले की जांच शुरू किए जाने को लेकर भी सूचना दी।

राजनाथ सिंह ने सदन को बताया कि भारतीय वायुसेना (आईएएफ) ने तमिलनाडु में हेलीकॉप्टर दुर्घटना की जांच के आदेश दिए हैं। रक्षा मंत्री ने कहा कि जांच का नेतृत्व एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह करेंगे। केंद्रीय रक्षा मंत्री ने कहा कि भारतीय वायुसेना का जांच दल बुधवार को वेलिंगटन पहुंचा था और मामले की जांच शुरू कर दी है।

उन्हेंने कहा कि जनरल रावत का अंतिम संस्कार पूरे सैन्य सम्मान के साथ किया जाएगा और अन्य सैन्य कर्मियों का अंतिम संस्कार भी सम्मान के साथ किया जाएगा। वहीं, उन्होंने लोकसभा में एम-17 हेलीकॉप्टर की दुर्घटना में 13 लोगों की मौत पर दो मिनट का मौन भी रखा।

उन्होंने बताया, “जनरल विपिन बिपिन रावत अपने दौरे के लिए तमिलनाडु के वेलिंग्टन जा रहे थे। वायुसेना के Mi-17 V5 हेलिकॉप्टर कल 11:48 AM बजे सुलूर एयर बेस से अपनी उड़ान भरी और इसे 12:15 बजे वेलिंग्टन लैंड करना था लेकिन सुलूर एयर बेस के एयर ट्रैफिक कंट्रोल ने 12:08 बजे अपना संपर्क खो दिया।”


रक्षा मंत्री ने सदन को बताया, “कुन्नूर के पास जंगल में कुछ स्थानीय लोगों ने हेलिकॉप्टर के अवशेषों को आग की लपटों से घिराह हुआ देखा। स्थानीय प्रशासन से एक बचाव दल घटनास्थल पहुंचकर बचाव अभियान कर लोगों को अस्पताल पहुंचाया। हेलिकॉप्टर में सवार कुल 14 में से 13 लोगों की मौत हो गई।”

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia