धनबाद के मैथन में CISF और दुकानदारों में संघर्ष, लाठीचार्ज में एक दर्जन लोग घायल, हालात तनावपूर्ण

डीवीसी की ओर से इलाके में कई दुकानदारों को दुकानें खाली करने का नोटिस भेजा गया है। इसके विरोध में दुकानदार पूर्व विधायक अरूप चटर्जी के नेतृत्व में डीवीसी प्रशासनिक भवन का घेराव करने पहुंचे थे। इस दौरान रोके जाने पर उनकी सीआईएसएफ से झड़प हो गई।

धनबाद के मैथन में CISF और दुकानदारों में संघर्ष, लाठीचार्ज में एक दर्जन लोग घायल
धनबाद के मैथन में CISF और दुकानदारों में संघर्ष, लाठीचार्ज में एक दर्जन लोग घायल
user

नवजीवन डेस्क

झारखंड के धनबाद के मैथन में गुरुवार को अपनी मांगों को लेकर दामोदर वैली कॉरपोरेशन (डीवीसी) के समक्ष प्रदर्शन कर रहे स्थानीय दुकानदारों और सीआईएसएफ के बीच जमकर संघर्ष हो गया। खबर है कि उग्र प्रदर्शनकारियों ने पत्थरबाजी की तो सीआईएसएफ ने लाठीचार्ज कर दिया। इस दौरान करीब एक दर्जन दुकानदार और प्रदर्शनकारी घायल हो गए।

दरअसल, डीवीसी की ओर से इलाके में कई दुकानदारों को दुकानें खाली करने का नोटिस भेजा गया है। इसके विरोध में दुकानदार पूर्व विधायक अरूप चटर्जी के नेतृत्व में डीवीसी प्रशासनिक भवन का घेराव करने पहुंचे थे। इस दौरान दुकानदार और प्रदर्शनकारी डीवीसी प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए नोटिस वापस लेने की मांग कर रहे थे।


अरूप चटर्जी का कहना है कि सीआईएसएफ के जवानों ने प्रदर्शनकारियों को जबरन रोकने की कोशिश की। इसका विरोध करने पर दुकानदारों और प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज कर दिया। इस घटना में 12 से अधिक कार्यकर्ता और दुकानदार घायल हो गए। उनका इलाज डीवीसी बीपी नियोगी अस्पताल में चल रहा है। इस दौरान आधा दर्जन गाड़ियां भी क्षतिग्रस्त हुई हैं।

पूर्व विधायक अरूप चटर्जी ने कहा कि तीन महीने से हम लोग बातचीत करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन, डीवीसी प्रबंधन की ओर से कोई पहल नहीं हुई है। लाठीचार्ज और पत्थरबाजी में कई लोग घायल हुए हैं। दो लोग अस्पताल में भर्ती हैं। जब तक हमें न्याय नहीं मिलता प्रदर्शन जारी रहेगा।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;