पंजाब में जहरीली शराब से मौतों पर सीएम अमरिंदर हुए सख्त, जांच के आदेश के बाद कई गिरप्तार

पंजाब में जहरीली शराब पीने से मौत की घटना को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पूरी घटना की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही उन्होंने पुलिस को राज्य में सक्रिय शराब फैक्ट्रियों पर नकेल कसने के लिए अभियान चलाने का आदेश दिया है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पंजाब में जहरीली शराब पीने से दो दिनों में अब तक 38 लोगों की मौत हो गई है। इससे पहले अमृतसर में गुरुवार रात को जहरीली शराब पीकर छह लोगों ने दम तोड़ दिया था। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए जालंधर डिवीजन के कमिश्नर को न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं। जिसके बाद पुलिस ने एक महिला बलविंदर कौर समेत अब तक करीब 10 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

पिछले दो दिनों में पंजाब के अमृतसर, बटाला और तरन तारन जिलों में नकली शराब के कथित सेवन के कारण कम से कम 38 लोगों की मौत हो गई। नकली शराब से बटाला में शुक्रवार को पांच और लोगों की मौत हो गई। एक व्यक्ति को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं तरन तारन जिले में चार और लोगों की मौत हुई है।

जांच आयोग हादसे के कारणों और परिस्थितियों के साथ-साथ किसी अन्य जुड़े मुद्दे या घटना से संबंधित परिस्थितियों की भी जांच करेगी। सरकार ने कहा है कि जालंधर के संभागीय आयुक्त संबंधित जिलों के संयुक्त आबकारी और कराधान आयुक्त और एसपी (जांच) के साथ मिलकर इस मामले की जांच करेंगे। सीएम ने जांच आयोग को किसी भी सिविल, पुलिस अधिकारी और विशेषज्ञ से मदद लेकर शीघ्र जांच करने को कहा है। उन्होंने दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के लिए कहा है। साथ ही उन्होंने राज्य में सक्रिय शराब निर्माण इकाइयों पर नकेल कसने के लिए पुलिस को तलाशी अभियान शुरू करने का निर्देश दिया है।

वहीं, पुलिस ने मामले में अमृतसर जिले के तरसिक्का गांव में बलविंदर कौर को हूच ट्रैजेडी मामले में गिरफ्तार किया है। वहीं चार मृतकों जसविंदर सिंह, कश्मीर सिंह, कृपाल सिंह और जसवंत सिंह की पोस्टमार्टम की जा रही है, ताकि मौत के सही कारणों का पता लग सके।

हादसे पर पुलिस महानिदेशक दिनकर गुप्ता ने कहा कि पहली पांच मौतें 29 जून की रात अमृतसर ग्रामीण क्षेत्र के मुच्छल और तंगरा गांवों से हुई थीं। 30 जुलाई की शाम को मुच्छल में दो और व्यक्तियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई, जबकि एक व्यक्ति को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन बाद में श्री गुरु रामदास अस्पताल में उसने दम तोड़ दिया।

उन्होंने आगे बताया कि बाद में, मुच्छल से दो अन्य लोगों की मौत की सूचना मिली, जबकि बटाला शहर में कथित तौर पर शराब के सेवन के कारण दो अन्य लोगों की मौत हो गई। शुक्रवार को बटाला में पांच और लोगों के दम तोड़ने के साथ, शहर में पूरे मामलों की संख्या सात हो गई है, जबकि एक व्यक्ति को गंभीर हालत में बटाला के सिविल अस्पताल में रेफर किया गया है।

लोकप्रिय
next